कोरोना का कहर: यूपी में आठवीं तक के छात्र बिना परीक्षा के होंगे पास

Basic education department
कोरोना का कहर: यूपी में आठवीं तक के छात्र बिना परीक्षा के होंगे पास

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के बीच छात्रों की परीक्षाओं को लेकर योगी सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। प्रदेश में बेसिक शिक्षा परिषद के स्कूलों में पहली से लेकर आठवीं कक्षा तक के सभी छात्र-छात्राएं बिना परीक्षा के ही पास किए जाएंगे।

Coronas Havoc Up To Eighth Students In Up Will Pass Without Examination :

अपर मुख्‍य सचिव (शिक्षा) रेणुका कुमार ने आदेश जारी करते हुए कहा कि बेसिक शिक्षा परिषद के तहत सभी स्कूलों को पहली से लेकर आठवीं क्लास तक के छात्रों को बिना परीक्षा के ही पास करने का निर्देश जारी कर दिया गया है। सभी स्कूल 2 अप्रैल तक बंद रहेंगे। कोरोना वायरस के संक्रमण के मद्देनजर यह फैसला लिया गया है।

बता दें कि कक्षा एक से आठवीं तक के विद्यार्थियों की परीक्षाएं 16 से 22 मार्च के बीच होनी थी, जिन्हें बाद में बढ़ाकर 23 से 28 मार्च कर दिया गया था। कोरोना का कहर बढ़ने के बाद अब शासन ने दो अप्रैल तक छुट्टियां बढ़ा दी हैं। जिसके कारण विद्यार्थियों की परीक्षाएं इस सत्र में नहीं हो पाएंगी।

स्कूल बंद रखने के साथ ही अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए गए हैं कि वह पूरी सख्ती के साथ इन आदेशों की अनुपालन करें। इसमें किसी तरह की कोई लापरवाही न की जाए। यह आदेश राजकीय, एडेड और सभी मान्यता प्राप्त निजी विद्यालयों में लागू होंगे।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के बीच छात्रों की परीक्षाओं को लेकर योगी सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। प्रदेश में बेसिक शिक्षा परिषद के स्कूलों में पहली से लेकर आठवीं कक्षा तक के सभी छात्र-छात्राएं बिना परीक्षा के ही पास किए जाएंगे। अपर मुख्‍य सचिव (शिक्षा) रेणुका कुमार ने आदेश जारी करते हुए कहा कि बेसिक शिक्षा परिषद के तहत सभी स्कूलों को पहली से लेकर आठवीं क्लास तक के छात्रों को बिना परीक्षा के ही पास करने का निर्देश जारी कर दिया गया है। सभी स्कूल 2 अप्रैल तक बंद रहेंगे। कोरोना वायरस के संक्रमण के मद्देनजर यह फैसला लिया गया है। बता दें कि कक्षा एक से आठवीं तक के विद्यार्थियों की परीक्षाएं 16 से 22 मार्च के बीच होनी थी, जिन्हें बाद में बढ़ाकर 23 से 28 मार्च कर दिया गया था। कोरोना का कहर बढ़ने के बाद अब शासन ने दो अप्रैल तक छुट्टियां बढ़ा दी हैं। जिसके कारण विद्यार्थियों की परीक्षाएं इस सत्र में नहीं हो पाएंगी। स्कूल बंद रखने के साथ ही अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए गए हैं कि वह पूरी सख्ती के साथ इन आदेशों की अनुपालन करें। इसमें किसी तरह की कोई लापरवाही न की जाए। यह आदेश राजकीय, एडेड और सभी मान्यता प्राप्त निजी विद्यालयों में लागू होंगे।