नीति आयोग में कोरोना की दस्तक, अधिकारी मिला पॉजिटिव, भवन सील

NIYI AAYOG
नीति आयोग में कोरोना की दस्तक, अधिकारी मिला पॉजिटिव, भवन सील

नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस का संक्रमण लगातार बढ़ता जा रहा है। मंगलवार को नीति आयोग के एक अधिकारी को कोरोना पॉजिटिव पाया गया। नीति आयोग में उप-सचिव अजित कुमार ने यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि इस मामले के सामने आने के बाद उचित प्रोटोकॉल का पालन करते हुए कदम उठाए जा रहे हैं। दो दिन के लिए पूरे भवन को सील कर दिया गया है ताकि सैनिटाइजेशन का काम कराया जा सके।

Coronas Knock In Niti Aayog Officer Found Positive Building Sealed :

वहीं एक अन्य अधिकारी ने बताया कि ‘नीति भवन’ में काम करने वाले एक निदेशक स्तर के अधिकारी का कोरोना वायरस परीक्षण सही पाया गया। उन्हें अपने कोरोना वायरस से संक्रमित होने की रपट मंगलवार सुबह नौ बजे मिली। उसके बाद उन्होंने अधिकारियों को सूचित किया।कुमार ने कहा कि उनके संपर्क में आए लोगों को स्वयं पृथक होकर रहने के लिए कह दिया गया है।

उन्होंने कहा, ‘हम सभी अनिवार्य प्रोटोकॉल का पालन कर रहे हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय को सूचित कर दिया गया है। सभी प्रक्रियाओं का पालन किया जाएगा। इसलिए अभी हमने इमारत को 48 घंटे के लिए बंद कर दिया है।’ हाल में नागर विमानन मंत्रालय के मुख्यालय को भी सील किया था। वहां भी एक कर्मचारी कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया था जो 15 अप्रैल को दफ्तर गया था।

नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस का संक्रमण लगातार बढ़ता जा रहा है। मंगलवार को नीति आयोग के एक अधिकारी को कोरोना पॉजिटिव पाया गया। नीति आयोग में उप-सचिव अजित कुमार ने यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि इस मामले के सामने आने के बाद उचित प्रोटोकॉल का पालन करते हुए कदम उठाए जा रहे हैं। दो दिन के लिए पूरे भवन को सील कर दिया गया है ताकि सैनिटाइजेशन का काम कराया जा सके। वहीं एक अन्य अधिकारी ने बताया कि 'नीति भवन' में काम करने वाले एक निदेशक स्तर के अधिकारी का कोरोना वायरस परीक्षण सही पाया गया। उन्हें अपने कोरोना वायरस से संक्रमित होने की रपट मंगलवार सुबह नौ बजे मिली। उसके बाद उन्होंने अधिकारियों को सूचित किया।कुमार ने कहा कि उनके संपर्क में आए लोगों को स्वयं पृथक होकर रहने के लिए कह दिया गया है। उन्होंने कहा, 'हम सभी अनिवार्य प्रोटोकॉल का पालन कर रहे हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय को सूचित कर दिया गया है। सभी प्रक्रियाओं का पालन किया जाएगा। इसलिए अभी हमने इमारत को 48 घंटे के लिए बंद कर दिया है।' हाल में नागर विमानन मंत्रालय के मुख्यालय को भी सील किया था। वहां भी एक कर्मचारी कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया था जो 15 अप्रैल को दफ्तर गया था।