1. हिन्दी समाचार
  2. खबरें
  3. ब्लैक लिस्ट ‘सीएंड डीएस’ की शिकायतों की भरमार, अफसरों की मेहरबानी से जल निगम की संस्था करती रही खेल

ब्लैक लिस्ट ‘सीएंड डीएस’ की शिकायतों की भरमार, अफसरों की मेहरबानी से जल निगम की संस्था करती रही खेल

By टीम पर्दाफाश 
Updated Date

लखनऊ। घोटालों की पर्याय बनीं उत्तर प्रदेश जल निगम की कार्यदायी संस्था सीएंड डीएस को प्रदेश सरकार ने ब्लैक लिस्ट कर दिया था। कार्यदायी संस्था पर करोड़ों रुपये के कामों में घोटालों का आरोप लगा है। वहीं, कार्यदायी संस्था के ब्लैक लिस्ट होने के बाद से उसके भ्रष्टाचार की पोल परत दर परत खुल रही है। इस बार विशेष सचिव अनिल कुमार सिंह ने पुलिस महानिदेशक विशेष अनुसंधान दल को पत्र लिखकर सीएंड डीएस के भ्रष्टाचार की शिकायतों की जांच करने को कहा है।

दरअसल, राहुल गुप्ता सचिव/कार्यपालक अधिकारी यूपी राज्य हज समिति ने पत्र लिखकर जल निगम की कार्यदायी संस्था सीएंड डीएस के भ्रष्टाचार की शिकायत की थी। उनका आरोप था कि सीएंड डीएस द्वारा आला हजरत हज हाउस गाजियाबाद के निर्माण में भारी धनराशि व्यय की गई। इसके साथ ही निर्माण कार्य में क​मियों को सही नहीं किया गया गया, जिसके कारण यह जन समान्य के उपयोग में नहीं आ सकी।

वहीं, उपलब्ध धनराशि का भी व्यय विवरण नहीं दिया गया। आरोप है कि भवन को हस्तांतरित न करने के कारण प्रकरण में शासकीय धनराशि की भारी क्षति परिलक्षित हो रही है। सीएंड डीएस ने यहीं नहीं मौलाना अली मिया मेमोरियल हज हाउस सरोजनीनगर लखनऊ के निर्माण में भी जमकर भ्रष्टाचार किया गया। आरोप है कि सीएंड डीएस ने धन राशि का दुरुपयोग करते हुए बेसमेंट के निर्माण कार्य सही से नहीं कराया।

इसके साथ ही निर्माण कार्य भी घटिया स्तर का कराया गया। आरोप है कि सीएंड डीएस के द्वारा इन कामों में भारी लापरवाही की गयी है, जिसके कारण रुपयों का जमकर दुरुपयोग किया गया है। वहीं, इन आरोपों के बाद विशेष सचिव अनिल कुमार सिंह ने इस मामले की जांच विशेष अनुसंधान दल से कराये जाने का निर्णय लिया है। इसके साथ ही जांच आख्य दो महीने के अंदर उपलब्ध कराने को कहा है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...