लोकसभा में मोदी के सामने नही लड़ पाये थे चुनाव, अब देंगे खट्टर को टक्कर

tej bahadur yadav
लोकसभा में मोदी के सामने नही लड़ पाये थे चुनाव, अब देंगे खट्टर को टक्कर

चंडीगढ़। हरियाणा विधानसभा चुनाव इस बार काफी रोचक होता हुआ दिखाई दे रहा है। लोकसभा चुनाव में बीएसएफ से बर्खास्त किये गये तेज बहादुर वाराणसी से पीएम मोदी के सामने तो चुनाव नही लड़ पाये थे लेकिन इस बार वो हरियााणा के वर्तमान सीएम मनोहर लाल खटटर के खिलाफ चुनाव लड़ने जा रहे हैं। इस बार उन्हे जननायक जनता पार्टी ने खटटर के खिलाफ अपना उम्मीदवार बनाते हुए मैदान में उतारा है।

Could Not Contest Elections In Front Of Modi In Lok Sabha Now Will Give Competition To Khattar :

करनाल विधानसभा सीट पर मुकाबला उस वक्त रोचक हो गया है जब जननायक पार्टी ने अपनी चौथी लिस्ट जारी की। तेज बहादुर का नाम आते ही अब सबकी नजरे इसी सीट पर होंगी। तेजबहादुर भी अपनी तरफ से इस बार कोई कमी नही छोड़ने वाले क्योकि 2019 लोकसभा चुनाव में उन्होने पीएम मोदी के खिलाफ वाराणसी से ताल ठोकी थी तो चुनाव आयोग ने उनके नामांकन को रदद कर दिया था।

आपको बता दें कि बीएसएफ से बर्खास्त जवान तेज बहादुर यादव हाल ही में जननायक जनता पार्टी (JJP) में शामिल हुए हैं। इससे पहले लोकसभा चुनाव में वह सपा में शामिल हुए थे और फिर उन्हे गठबंधन की तरफ से सपा ने वाराणसी सीट से पीएम मोदी के खिलाफ टिकट भी दिया था। चुनाव आयोग द्वारा उनका पर्चा रदद कर दिया गया तो वो सुप्रीम कोर्ट गये थे लेकिन वहां से भी उन्हे निराशा ही हाथ लगी थी।

चंडीगढ़। हरियाणा विधानसभा चुनाव इस बार काफी रोचक होता हुआ दिखाई दे रहा है। लोकसभा चुनाव में बीएसएफ से बर्खास्त किये गये तेज बहादुर वाराणसी से पीएम मोदी के सामने तो चुनाव नही लड़ पाये थे लेकिन इस बार वो हरियााणा के वर्तमान सीएम मनोहर लाल खटटर के खिलाफ चुनाव लड़ने जा रहे हैं। इस बार उन्हे जननायक जनता पार्टी ने खटटर के खिलाफ अपना उम्मीदवार बनाते हुए मैदान में उतारा है। करनाल विधानसभा सीट पर मुकाबला उस वक्त रोचक हो गया है जब जननायक पार्टी ने अपनी चौथी लिस्ट जारी की। तेज बहादुर का नाम आते ही अब सबकी नजरे इसी सीट पर होंगी। तेजबहादुर भी अपनी तरफ से इस बार कोई कमी नही छोड़ने वाले क्योकि 2019 लोकसभा चुनाव में उन्होने पीएम मोदी के खिलाफ वाराणसी से ताल ठोकी थी तो चुनाव आयोग ने उनके नामांकन को रदद कर दिया था। आपको बता दें कि बीएसएफ से बर्खास्त जवान तेज बहादुर यादव हाल ही में जननायक जनता पार्टी (JJP) में शामिल हुए हैं। इससे पहले लोकसभा चुनाव में वह सपा में शामिल हुए थे और फिर उन्हे गठबंधन की तरफ से सपा ने वाराणसी सीट से पीएम मोदी के खिलाफ टिकट भी दिया था। चुनाव आयोग द्वारा उनका पर्चा रदद कर दिया गया तो वो सुप्रीम कोर्ट गये थे लेकिन वहां से भी उन्हे निराशा ही हाथ लगी थी।