1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. देश का पहला प्राइवेट रॉकेट ‘Vikram-S’ लॉन्च, जाने किस के नाम से रखा गया है इसका यह नाम

देश का पहला प्राइवेट रॉकेट ‘Vikram-S’ लॉन्च, जाने किस के नाम से रखा गया है इसका यह नाम

इंडियन स्पेस प्रोग्राम के नए युग की शुरूआत हो गया है  श्रीहरिकोटा शुक्रवार को  देश के पहले प्राइवेट रॉकेट ‘विक्रम एस’ को सफलतापूर्वक लॉन्च कर दिया गया। विक्रम एस को सुबह 11:30 मिनट पर सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से लॉन्च किया गया। बताया जा रहा है कि भारत के पहले निजी रॉकेट ‘विक्रम-एस’ का नामकरण विक्रम साराभाई के नाम पर किया गया है।

By प्रिया सिंह 
Updated Date

श्रीहरिकोटा: इंडियन स्पेस प्रोग्राम के नए युग की शुरूआत हो गया है  श्रीहरिकोटा शुक्रवार को  देश के पहले प्राइवेट रॉकेट ‘विक्रम एस’ को सफलतापूर्वक लॉन्च कर दिया गया। विक्रम एस को सुबह 11:30 मिनट पर सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से लॉन्च किया गया। बताया जा रहा है कि भारत के पहले निजी रॉकेट ‘विक्रम-एस’ का नामकरण विक्रम साराभाई के नाम पर किया गया है। रॉकेट का निर्माण “स्काईरूट एयरोस्पेस” ने किया है।

पढ़ें :- एसएसबी आईजी लखनऊ ने किया सोनौली सीमा का दौरा

बताया जा रहा है कि लॉन्चिंग के बाद से  रॉकेट  आवाज की गति से पांच  गुना ज्यादा स्पीड से अंतरिक्ष की ओर गया। बता दें कि इसका निर्माण स्काईरूट कंपनी ने किया है जो चार साल पुरानी है। विक्रम एस रॉकेट को लॉन्च करने में भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) ने मदद की। इस मिशन को ‘Mission Prarambh’ नाम दिया गया है।

पढ़ें :- Budget 2023 Expectations : बजट में 8वें वेतन आयोग ऐलान कर सकती है मोदी सरकार

विक्रम-1 अगले साल लॉन्च होगा

इस रॉकेट का  नाम भारतीय अंतरिक्ष कार्यक्रम के संस्थापक डॉ. विक्रम साराभाई के नाम पर रखा गया है। विक्रम-I पृथ्वी की निचली कक्षा में 480 किलोग्राम पेलोड ले जा सकता है, वहीं विक्रम-II 595 किलोग्राम कार्गो को उठाने में सक्षम है। इस बीच, विक्रम-III 815 किलोग्राम से 500 किलोमीटर कम झुकाव वाली कक्षा के साथ लॉन्च कर सकता है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...