कोर्ट ने नीरव मोदी व परिवार को दिया नोटिस, 25 सितंबर को होना है पेश

nirav modi
कोर्ट ने नीरव मोदी व परिवार को दिया नोटिस, 25 सितंबर को होना है पेश

नई दिल्ली। विशेष ‘भगोड़ा आर्थिक अपराध कानून’ अदालत ने नीरव मोदी और उसके भाई—बहन को समन भेजा है,जिसके मुताबिक आगामी 25 सितंबर को उन्हे कोर्ट में पेश होना है। साथ ही कहा कि अगर वे अदालत में पेश नहीं हुए तो नए कानून के तहत उनकी सम्पत्ति जब्त कर ली जाएगी। एम.एस आजमी की अदालत ने समाचार पत्रों में नीरव मोदी की बहन पूर्वी मोदी और भाई निशाल मोदी के नाम तीन सार्वजनिक नोटिस जारी किए हैं, क्योंकि प्रवर्तन निदेशालय ने नए कानून के तहत एक आवेदन में इन्हें हितबद्ध व्यक्तियों में गिना है।

बता दें कि ईडी ने नीरव के भाई और बहन पर भी इस मामले में लिप्त होने और घोटाले के सामने आने से पहले ही भारत से फरार हो जाने के आरोप लगाए हैं। अदालत ने दोनों को 25 सितंबर को सुबह 11 बजे अदालत में पेश होने को कहा है। इसी तारीख को नीरव मोदी को भी पेश होने के लिए कहा गया है।

{ यह भी पढ़ें:- एंटीगुआ में ही है मेहुल चोकसी, CBI जल्द शुरू करेगी प्रत्यर्पण की प्रक्रिया }

कोर्ट द्वारा जारी किए गए नोटिस में नीरव मोदी को उसी दिन और उसी वक्त अदालत में पेश होने के लिए कहा गया। नोटिस में कहा ​गया कि जैसा कि तुम देश छोड़ कर भाग गए हो। यही नही सुनवाई के लिए आने से भी इंकार कर रहे हो तो इस हालत में तुम्हें उपरोक्त अध्यादेश के तहत भगोड़ा घोषित किया जाना चाहिए। न्यायाधीश ने सार्वजनिक घोषण में कहा, मैं तुम्हें यह बताने का नोटिस जारी करता हूं कि क्यों न तुम्हें भगोड़ा घोषित करने का आवेदन स्वीकार किया जाना चाहिए और क्यों नहीं आवेदन में दर्ज संपत्तियों को उपरोक्त अध्यादेश के तहत जब्त किया जाना चहिए।

{ यह भी पढ़ें:- PNB घोटाले के मास्‍टरमाइंड मेहुल चोकसी को एंटीगुआ से लाने की कोशिश तेज }

नई दिल्ली। विशेष 'भगोड़ा आर्थिक अपराध कानून' अदालत ने नीरव मोदी और उसके भाई—बहन को समन भेजा है,जिसके मुताबिक आगामी 25 सितंबर को उन्हे कोर्ट में पेश होना है। साथ ही कहा कि अगर वे अदालत में पेश नहीं हुए तो नए कानून के तहत उनकी सम्पत्ति जब्त कर ली जाएगी। एम.एस आजमी की अदालत ने समाचार पत्रों में नीरव मोदी की बहन पूर्वी मोदी और भाई निशाल मोदी के नाम तीन सार्वजनिक नोटिस जारी किए हैं, क्योंकि प्रवर्तन निदेशालय…
Loading...