1. हिन्दी समाचार
  2. खबरें
  3. चचेरे भाई धनंजय ने समर्थकों को चेताया, कहा- पंकजा मुंडे के खिलाफ नारेबाजी बर्दाश्त नहीं

चचेरे भाई धनंजय ने समर्थकों को चेताया, कहा- पंकजा मुंडे के खिलाफ नारेबाजी बर्दाश्त नहीं

By रवि तिवारी 
Updated Date

मुंबई। महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव (Maharashtra Assembly Election) में पंकजा मुंडे (Pankaja Munde) को हराने वाले उनके चचेरे भाई धनंजय ने अपने समर्थकों को उनके खिलाफ नारे लगाने से रोक दिया। शुक्रवार को नतीजे आने के बाद एनसीपी नेता धनंजय की जीत की खुशी में पार्टी कार्यकर्ता नारे लगाने लगे। जैसे ही कार्यकर्ताओं ने पकंजा के खिलाफ नारे लागे शुरू किए धनंजय ने उन्हें रोक दिया।  
 
इस दौरान कुछ कार्यकर्ताओं ने पकंजा के खिलाफ भी नारे लगाने शुरू कर दिए। इससे नाराज हुए धनंजय ने उन्हें तुरंत डांट दिया। धनंजय ने हिदायत दी कि ऐसी नारेबाजी कतई बर्दाश्त नहीं होगी। शुक्रवार को धनंजय स्वर्गीय गोपीनाथ मुंडे (पंकजा के पिता) के समाधिस्थल पर भी गए और माथा टेका।

राकांपा नेता धंनजय मुंडे ने परली सीट पर पंकजा को 30,000 से अधिक मतों से हराया है। पंकजा, देवेंद्र फडणवीस की सरकार में मंत्री रहीं हैं।

पंकजा के खिलाफ की थी आपत्तिजनक टिप्पणी

राज्य में भाजपा-शिवसेना सरकार के पांच साल के कार्यकाल में दोनों के बीच कट्टर प्रतिद्वंद्विता रही। यह प्रतिद्वंद्विता चुनाव से पहले एक कथित वीडियो सामने आने के बाद और बढ़ गयी जिसमें धनंजय मुंडे, पंकजा के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी करते नजर आ रहे थे।

धनंजय ने खुद को बताया बेगुनाही

एनसीपी नेता ने दावा किया कि वीडियो से छेड़छाड़ की गयी है, जबकि भाजपा ऐसी टिप्पणियों के लिए उनके खिलाफ मोर्चा खोल कर चुनावी फायदा उठाने की कोशिश करती नजर आई थी। इसी कारण उन्होंने मामले में अपनी बेगुनाही साबित करने के लिए प्रेस कॉन्फ्रेंस का आयोजन किया।

शुक्रवार को जब वह मीडियाकर्मियों से बात कर रहे थे तब कुछ एनसीपी कार्यकर्ताओं ने पंकजा के खिलाफ नारेबाजी की। उन्होंने तुरंत उन्हें फटकार लगाई और कहा कि पंकजा के खिलाफ ऐसी नारेबाजी को वह बर्दाश्त नहीं करेंगे।

बता दें कि महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में बीजेपी-शिवसेना गठबंधन को 161 सीटों पर जीत मिली है। वहीं एनसीपी-कांग्रेस गठबंधन 98 सीटों पर जीत दर्ज करने में कामयाब हुआ है। एनसीपी ने 2014 के मुकाबले बेहतर प्रदर्शन करते हुए 54 सीटों पर जीत दर्ज की है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...