K L Rahul ने सहवाग को दिया विस्फोटक बैटिंग का श्रेय, कहा- वीरू ने खेलने की आजादी दी

नई दिल्ली। इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के 11वें सत्र में अपनी जबरदस्त बैटिंग की छाप छोड़ने वाले लोकेश राहुल ने सफलता का श्रेय पूर्व ओपनर वीरेंदर सहवाग को दिया है। उन्होंने कहा कि पूर्व विस्फोटक बल्लेबाज ने किंग्स इलेवन पंजाब (KXIP) के हर खिलाड़ी को मनमाफिक खेलने की आजादी दी। इसी वजह से मैं अपना खेल सुधार सका।  रविचंद्रन अश्विन की कप्तानी वाली पंजाब इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के 11वें संस्करण में पहले छह मैचों में से पांच जीतने के बावजूद प्लेआफ से बाहर हो गई थी।

Cricket Kl Rahul Praise Of Kings Xi Punjab Mentor Virender Sehwag :

आर. अश्विन की कप्तानी में उतरी किंग्स इलेवन की टीम ने टूर्नमेंट में शुरुआत अच्छी की थी, लेकिन प्लेऑफ में जगह नहीं बना सकी। टीम ने शुरुआती 6 मुकाबलों में लगातार जीत दर्ज की थी। टूर्नमेंट में केन विलियमसन (735 रन) और ऋषभ पंत (684 रन) के बाद तीसरे बेस्ट बैट्समैन रहे लोकेश राहुल ने कहा कि मैं सहवाग के पास बात करने के लिए कई बार गया। सलाह के तौर पर उन्होंने सभी खिलाड़ियों से यही कहा कि जाओ, खुद को फील करो और चेहरे पर खुशी लिए अपने खेल को एंजॉय करो।

टूर्नमेंट में 14 मुकाबलों में 54.91 की औसत से शानदार 659 रन बनाने वाले कर्नाटक के ओपन राहुल ने कहा कि ऐसा सिर्फ मेरे साथ नहीं हुआ, बल्कि टीम के हर बल्लेबाज और गेंदबाज को सहवाग ने खेलने की आजादी दी। साथ ही उन्होंने अपने खेल पर फोकस करने को कहा। उन्होंने कहा कहा कि मैच का रिजल्ट कुछ भी हो, उससे फर्क नहीं पड़ता। आप अपने खेल पर फोकस करो। अपना बेस्ट दो।

उन्होंने कहा कि इस आईपीएल सीजन ने उन्हें काफी कुछ दिया है। बता दें कि सहवाग साफ बोलने वाले क्रिकेटर माने जाते हैं। उनके बारे में कहा जाता है कि वह टीम पर भरोसा करते हैं और हर खिलाड़ी को मौका देते हैं।

नई दिल्ली। इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के 11वें सत्र में अपनी जबरदस्त बैटिंग की छाप छोड़ने वाले लोकेश राहुल ने सफलता का श्रेय पूर्व ओपनर वीरेंदर सहवाग को दिया है। उन्होंने कहा कि पूर्व विस्फोटक बल्लेबाज ने किंग्स इलेवन पंजाब (KXIP) के हर खिलाड़ी को मनमाफिक खेलने की आजादी दी। इसी वजह से मैं अपना खेल सुधार सका।  रविचंद्रन अश्विन की कप्तानी वाली पंजाब इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के 11वें संस्करण में पहले छह मैचों में से पांच जीतने के बावजूद प्लेआफ से बाहर हो गई थी। आर. अश्विन की कप्तानी में उतरी किंग्स इलेवन की टीम ने टूर्नमेंट में शुरुआत अच्छी की थी, लेकिन प्लेऑफ में जगह नहीं बना सकी। टीम ने शुरुआती 6 मुकाबलों में लगातार जीत दर्ज की थी। टूर्नमेंट में केन विलियमसन (735 रन) और ऋषभ पंत (684 रन) के बाद तीसरे बेस्ट बैट्समैन रहे लोकेश राहुल ने कहा कि मैं सहवाग के पास बात करने के लिए कई बार गया। सलाह के तौर पर उन्होंने सभी खिलाड़ियों से यही कहा कि जाओ, खुद को फील करो और चेहरे पर खुशी लिए अपने खेल को एंजॉय करो। टूर्नमेंट में 14 मुकाबलों में 54.91 की औसत से शानदार 659 रन बनाने वाले कर्नाटक के ओपन राहुल ने कहा कि ऐसा सिर्फ मेरे साथ नहीं हुआ, बल्कि टीम के हर बल्लेबाज और गेंदबाज को सहवाग ने खेलने की आजादी दी। साथ ही उन्होंने अपने खेल पर फोकस करने को कहा। उन्होंने कहा कहा कि मैच का रिजल्ट कुछ भी हो, उससे फर्क नहीं पड़ता। आप अपने खेल पर फोकस करो। अपना बेस्ट दो। उन्होंने कहा कि इस आईपीएल सीजन ने उन्हें काफी कुछ दिया है। बता दें कि सहवाग साफ बोलने वाले क्रिकेटर माने जाते हैं। उनके बारे में कहा जाता है कि वह टीम पर भरोसा करते हैं और हर खिलाड़ी को मौका देते हैं।