27 साल बाद विश्व कप में इंग्लैंड से हारी भारतीय टीम

A

बर्मिंघम। जॉनी बेयरस्टो के शतक के बाद गेंदबाजों के उम्दा प्रदर्शन से इंग्लैंड ने रोहित शर्मा के शतक पर पारी फेरते हुए विश्व कप लीग मैच में रविवार को भारत को 31 रन से हराकर नॉकआउट में जगह बनाने की उम्मीदों को जीवंत रखा।
इंग्लैंड के 338 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए भारतीय टीम रोहित 102 के शतक के बावजूद पांच विकेट पर 306 रन ही बना सकी और उसे टूर्नामेंट में पहली हार का सामना करना पड़ा।

Cricket World Cup 2019 England Vs India England Beat India By 31 Runs :

रोहित ने कप्तान विराट कोहली 66 के साथ दूसरे विकेट के लिए 138 रन की साझेदारी की लेकिन टीम को जीत नहीं दिला सके। हार्दिक पंड्या ने 45 जबकि धोनी ने नाबाद 42 रन बनाए। वल्र्डकप में 27 साल बाद ये पहला मौका है जब इंग्लैंड ने टीम इंडिया को हराया है।

इस हार ने वल्र्डकप में सेमीफाइनल की दौड़ में अब पाकिस्तान का सिरदर्द बढ़ा दिया है। इंग्लैंड की ओर से लियाम प्लंकेट ने 55 रन देकर तीन जबकि क्रिस वोक्स ने 58 रन देकर दो विकेट चटकाए। भारत की यह हार निराशाजनक रही क्योंकि पूरी पारी के दौरान टीम इंडिया ने जीत दर्ज करने के लिए पर्याप्त जज्बा नहीं दिखाया।

इंग्लैंड ने इससे पहले सलामी बल्लेबाज जानी बेयरस्टा 111 के शतक के अलावा बेन स्टोक्स 79 और जेसन राय 66 के अर्धशतक से सात विकेट पर 337 रन बनाए। बेयरस्टा ने 109 गेंद में छह छक्कों और 10 चौकों की पारी के दौरान राय के साथ पहले विकेट के लिए 160 रन जोड़कर इंग्लैंड को तूफानी शुरुआत दिलाई् जो रूट 44 ने भी उम्दा पारी खेली।

भारत की ओर से मोहम्मद शमी ने करियर की सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी करते हुए 69 रन देकर पांच विकेट चटकाए। जसप्रीत बुमराह ने किफायती गेंदबाजी की और 44 रन देकर एक विकेट चटकाया जबकि बाकी गेंदबाज महंगे साबित हुए। इस जीत से इंग्लैंड के आठ मैचों में पांच जीत से 10 अंक हो गए हैं और टीम अंक तालिका में चौथे स्थान पर पहुंच गई है भारत सात मैचों में 11 अंक के साथ दूसरे स्थान पर बरकरार है।

लक्ष्य का पीछा करने उतरे भारत की शुरुआत खराब रही। तेज गेंदबाज क्रिस वोक्स ने पहले तीन ओवर मेडन डाले और इस दौरान लोकेश राहुल को अपनी ही गेंद पर लपका। राहुल खाता भी नहीं खोल पाए।

बर्मिंघम। जॉनी बेयरस्टो के शतक के बाद गेंदबाजों के उम्दा प्रदर्शन से इंग्लैंड ने रोहित शर्मा के शतक पर पारी फेरते हुए विश्व कप लीग मैच में रविवार को भारत को 31 रन से हराकर नॉकआउट में जगह बनाने की उम्मीदों को जीवंत रखा। इंग्लैंड के 338 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए भारतीय टीम रोहित 102 के शतक के बावजूद पांच विकेट पर 306 रन ही बना सकी और उसे टूर्नामेंट में पहली हार का सामना करना पड़ा। रोहित ने कप्तान विराट कोहली 66 के साथ दूसरे विकेट के लिए 138 रन की साझेदारी की लेकिन टीम को जीत नहीं दिला सके। हार्दिक पंड्या ने 45 जबकि धोनी ने नाबाद 42 रन बनाए। वल्र्डकप में 27 साल बाद ये पहला मौका है जब इंग्लैंड ने टीम इंडिया को हराया है। इस हार ने वल्र्डकप में सेमीफाइनल की दौड़ में अब पाकिस्तान का सिरदर्द बढ़ा दिया है। इंग्लैंड की ओर से लियाम प्लंकेट ने 55 रन देकर तीन जबकि क्रिस वोक्स ने 58 रन देकर दो विकेट चटकाए। भारत की यह हार निराशाजनक रही क्योंकि पूरी पारी के दौरान टीम इंडिया ने जीत दर्ज करने के लिए पर्याप्त जज्बा नहीं दिखाया। इंग्लैंड ने इससे पहले सलामी बल्लेबाज जानी बेयरस्टा 111 के शतक के अलावा बेन स्टोक्स 79 और जेसन राय 66 के अर्धशतक से सात विकेट पर 337 रन बनाए। बेयरस्टा ने 109 गेंद में छह छक्कों और 10 चौकों की पारी के दौरान राय के साथ पहले विकेट के लिए 160 रन जोड़कर इंग्लैंड को तूफानी शुरुआत दिलाई् जो रूट 44 ने भी उम्दा पारी खेली। भारत की ओर से मोहम्मद शमी ने करियर की सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी करते हुए 69 रन देकर पांच विकेट चटकाए। जसप्रीत बुमराह ने किफायती गेंदबाजी की और 44 रन देकर एक विकेट चटकाया जबकि बाकी गेंदबाज महंगे साबित हुए। इस जीत से इंग्लैंड के आठ मैचों में पांच जीत से 10 अंक हो गए हैं और टीम अंक तालिका में चौथे स्थान पर पहुंच गई है भारत सात मैचों में 11 अंक के साथ दूसरे स्थान पर बरकरार है। लक्ष्य का पीछा करने उतरे भारत की शुरुआत खराब रही। तेज गेंदबाज क्रिस वोक्स ने पहले तीन ओवर मेडन डाले और इस दौरान लोकेश राहुल को अपनी ही गेंद पर लपका। राहुल खाता भी नहीं खोल पाए।