कलयुगी भाई ने 3 लाख की सुपारी देकर करा दी हत्या

बिजनौर। रिश्तो को शर्मशार करने वाली ये घटना है बिजनौर की, जहां पर एक मामूली सी जमीन के विवाद को लेकर सगे भाई ने ही अपने भाई की हत्या कर शव को एक बाग़ में फेंक दिया था। जिसमे पुलिस ने शव की शिनाख्त कराकर मामले की पड़ताल की तो पुलिसिया जांच में कातिल कोई और नही बल्कि मृतक का भाई ही निकला है। पुलिस ने आरोपी भाई और उसके साथियो को भी गिरफ्तार कर लिया है।

दरअसल ये पूरा मामला है बिजनौर जिले के थाना स्योहारा इलाके के गावं मकसूदपुर का है, जहां पर 22 अक्टूबर को एक अज्ञात व्यक्ति की लाश बाग़ में मिली थी। जिसमे पुलिस ने शव की शिनाख्त कराई तो मृतक की पत्नी मीनू गुप्ता ने अपने पति राहुल के रूप में शिनाख्त की। मीनू गुप्ता जुझेला गाव की रहने वाली है। उसके बाद पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराया और जांच शुरू की तो पता चला क़ि मृतक राहुल के सगे भाई अलकेश ने अपने पिता विजय कुमार से 30 बीघा जमीन अपने नाम करा ली थी। इस बात का पता जब राहुल को लगा तो राहुल ने अलकेश के लड़के की हत्या करने की धमकी दी थी। बस इसी बात से अलकेश डर गया और अलकेश ने अपने 4 साथियो के साथ मिलकऱ राहुल की हत्या की साजिश रच डाली।




कलयुगी भाई ने ही 3 लाख की सुपारी देकर हत्या करा दी और हत्या गला घोटकर की गयी थी, लेकिन कातिल ने पुलिस को गुमराह करने के लिये चालाकी दिखाई और मृतक राहुल के हाथ की नस को भी काट डाला था। ताकि किसी को ये न लगे की राहुल की हत्या की गयी है। आखिरकार पुलिस ने 6 दिन बाद राहुल मर्डर का खुलासा कर दिया है और भाई सहित 3 लोगो को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। एक आरोपी अभी भी फरार बताया जा रहा है। पुलिस की माने तो मृतक राहुल भी हिस्ट्रीशीटर था और उसके ऊपर संगीन धाराओ के 20 से अधिक मुकदमे दर्ज है।




Loading...