अवैध संबंध में बाधा बन रही पत्नी की हत्या, बेटे को साधू को सौंपा

बरेली: उत्तर प्रदेश के बरेली जिले में एक व्यक्ति ने अवैध संबंधों में बाधा बन रही पत्नी की हत्या कर उसका शव नदी में फेंक दिया। अपने डेढ़ साल के बच्चे को एक साधु को सौंप दिया। पुलिस सूत्रों ने बताया कि जिले के नवाबगंज थाना क्षेत्र के अधकटा गांव के पास अप्सरा नदी पुल के नीचे कल शाम एक महिला का शव बरामद किया गया था। उसकी पहचान जिले के अधकटा अब्बास बेगम गांव के निवासी मोहनलाल की पत्नी 23 वर्षीय पूनम के रूप में हुई। वह 10 दिन से लापता थी।



सू़त्रों ने बताया कि मोहनलाल गत आठ अक्तूबर को अपने डेढ़ साल के बेटे गौरव और पत्नी पूनम को अपने ससुराल ज्योत जागीर छोड़ने गया था। उसके बाद से तीनों लापता थे। मोहनलाल के भाई भोलानाथ ने तीनों की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। 11 अक्तूबर को मोहनलाल पुलिस को ज्योत जागीर के जंगल में नशे की हालत में मिला था। तब उसे पूछताछ के बाद छोड़ दिया था। लेकिन जब पूनम के मायके वालों ने उसकी तथा उसके बेटे की हत्या की आशंका जताई तो शक के आधार पर पुलिस ने मोहनलाल को फिर से हिरासत में ले लिया।

पुलिस उप अधीक्षक (देहात) यमुना प्रसाद के मुताबिक पूछताछ में मोहनलाल ने बताया कि उसके अपने परिवार की ही एक महिला से नाजायज रिश्ते थे। इस बात को लेकर अक्सर उसका पत्नी से झगड़ा होता था। मोहनलाल ने पत्नी को मायके ले जाने के बहाने उसकी हत्या कर दी और बेटा एक साधु को सौंप दिया। बहरहाल, पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर कार्यवाई शुरू कर दी है।