पत्नी की हत्या कर खुद फंदे से लटक दी जान, घरेलू कलह से था परेशान

कैथल। पेट्रोल पंप पर काम करने वाले एक व्यक्ति ने घरेलू विवाद के चलते पत्नी की गला दबाकर हत्या कर दी। उसके बाद उसने फंदा लगाकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली। पूंडरी निवासी सुभाष (38) पुत्र ओमप्रकाश ने वृहस्पतिवार को पत्नी मेघा (34) की गला दबा कर हत्या कर दी और घर से फरार हो गया। सुभाष के बच्चे जब शाम को घर आये तो मां को चारपाई पर बेहोशी की हालत में देखकर पड़ोसियों को सूचना दी। पड़ोसियों ने पुलिस को सूचना दी और थाना प्रभारी सतीश कुमार मौके पर पहुंचे तो मेघा मर चुकी थी।




देर रात तक पुलिस सुभाष की तलाश में इधर-उधर छापेमारी करती रही। शुक्रवार सुबह सुभाष का शव हैफेड के गोदाम के पास एक पेड़ से लटका मिला। पुलिस ने मृतका के भाई निखिल के बयान पर उसके जीजा सुभाष के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया था। पुलिस को दी शिकायत में निखिल ने कहा कि उसकी बहन की शादी करीब दस साल पहले पूंडरी निवासी सुभाष के साथ हुई थी। शादी के चार-पांच साल तक तो सब कुछ ठीक रहा, लेकिन फिर दोनों के बीच सुभाष के चरित्रहीन को लेकर झगड़े रहने लगे।




निखिल का कहना है कि आठ महीने पहले भी सुभाष ने उसकी बहन को बुरी तरह मारा था, तब पुलिस ने सुभाष को चेतावनी देकर छोड़ दिया था। इसके बाद सुभाष उसकी बहन को अलग-अलग तरीके से परेशान करने लगा। मौका पाकर उसने उसकी बहन को मौत के घाट उतार दिया। बृहस्पतिवार शाम करीब 6 बजे उसके पास फोन आया कि उसकी बहन की मौत हो गई है। निखिल की शिकायत पर पुलिस ने उसके जीजा के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया है। सुभाष के एक लड़की श्रेया (8) व लड़का भुवनेश 5 वर्ष का है। सुभाष के दो भाई भी हैं लेकिन वह उन दोनों से अलग रह रहा था। थाना प्रभारी सतीश कुमार ेंने कहा कि दोनों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। इसके बाद आगे की जांच की जाएगी।