औरैया में धारदार हथियार से पति, पत्नी व बेटी की हत्या

दिबियापुर: उत्तर प्रदेश के औरैया के दिबियापुर में रविवार रात नगर के मोहल्ला आजाद नगर में अज्ञात लोगों ने एक रेलकर्मी, उसकी पत्नी व बेटी की धारदार हथियार से हत्या दी। बाद में शवों को आग के हवाले कर दिया। घटना की जानकारी तब हो सकी जब मकान से धुंआ निकलना शुरू हुआ। नौशाद अली उर्फ नौशे (60 ) पुत्र गुलाम रसूल फफूंद रेलवे स्टेशन पर एमसीएम फिटर के पद पर तैनात था, जिसके रिटायरमेंट में महज तीन माह शेष रह गये थे।




नियमानुसार सेवानिवृत्त होने के तीन माह पहले उसे सरकारी आवास छोड़ना होता है। जिससे नौशाद आजाद नगर में पत्नी आसमीन (35) व बेटी शब्बो (2) के साथ किराए के मकान में रहने लगा। रविवार रात अज्ञात लोगों ने उसके घर के अंदर तीनों की धारदार हथियार से हत्या कर दी और सबूत नष्ट करने के लिए शवों को चारपाई पर रखकर मिट्टी का तेल डालकर आग के हवाले कर दिया। हत्यारों ने घर के दरवाजे की कुंडी बाहर से बंद कर दी थी। रात के करीब 1.30 बजे मकान से आग की लपटें निकलने लगीं। प्राइवेट गार्ड ने इसकी जानकारी पुलिस को दी। मौके पर थानाध्यक्ष जितेन्द्र कुमार सिंह पहुंचे।




उन्होंने दरवाजा खुलवाकर देखा तो तीनों शव फर्श पर बुरी तरह से जले पड़े थे। उनकी गर्दन में कटे का निशान था। इसके अलावा दीवारों पर खून के निशान थे, जिससे पुलिस अंदाजा लगा रही है कि हत्या किसी ने रंजिश में की है जो मृतकों का बहुत ही करीब है। पुलिस अधीक्षक रामकिशोर, सीओ सिटी कुलदीप कुकरेती रात में ही घटनास्थल पर पहुंचे। सुबह डीआईजी कानपुर जोन राजेश मोदक मौके पर पहुंचे, उन्होंने मामले का शीघ्र खुलासा करने के निर्देश दिये।