मुठभेड़ के दौरान इनामी बदमाश गिरफ्तार, एसओ को भी लगी गोली

आगरा। यूपी पुलिस की बदमाशों से मुठभेड़ का सिलसिला बदस्तूल जारी है। इसी सिलसिले को जारी रखते हुए आगरा पुलिस की सोमवार रात एक ईनामी बदमाश से मुठभेड़ को गई। पुलिस ने बदमाश को रोंकने का प्रयास किया तो उसने पुलिस टीम पर फा​यरिंग कर दी। जबाव में पुलिस ने भी उस पर गोली चलाई तो वो घायल होकर वहीं गिर पड़ा। इस मुठभेड़ में एसओ भी गोली लगने से घायल हो गया। साथ रहे पुलिसकर्मियों ने गंभीर रूप से घायल बदमाश और थानाइंचार्ज को अस्पताल पहुंचाया। बताया जाता है कि दबोचे गए बदमाश के खिलापफ मथुरा, आगरा, फिरोजाबाद व मैनपुरी सहित कई जिलो अपराधिक वारदातों के मुकदमे दर्ज हैं। वो काफी दिनों से फरार था, जिसके बाद उसके उस पर 25 हजार रूपए का इनाम घोषित किया गया था।

Crimnal Arrested In Agra :

प्राप्त जानकारी के अनुसार आगरा के वैदपुरा थाना इंचार्ज सत्येन्द्र सिंह सोमवार रात अपनी टीम के गस्त कर रहे थे। तभी रास्ते में बिचपुरी खेड़ा गांव के पास उन्हे एक बाइक आती दिखाई दी। संदेह होने पर पुलिस ने बाइक सवार दोनों युवकों को रूकने का इशारा किया तो बाइक वो भागने का प्रयास करने लगे। पुलिस टीम ने घेराबंकी शुरू की तो उन लोगों ने गोली चला दी, जो सत्येन्द्र सिंह को लग गई। टीम में रहे कुछ सिपाहियों ने एसओ को संभाला जबकि अन्य लोगों ने बदमाश पर जवाबी फायरिंग शुरु कर दी। मुठभेड़ के दौरान एक बदमाश गोली लगने से घायल होकर वहीं गिर पड़ा, जबकि उसका साथी वहां से भाग निकला। गिरफ्त में आए बदमाश ने अपना नाम हैण्डपम्प कालोनी मथुरा निवासी कलाम बताया जबकि फरार हुए अपने साथी का नाम फिरोजाबाद के सिरसागंज निवासी सौरभ बताया। पुलिस के मुताबिक दोनों के ऊपर 25—25 हजार रूपए का इनाम घोषित था।

आगरा। यूपी पुलिस की बदमाशों से मुठभेड़ का सिलसिला बदस्तूल जारी है। इसी सिलसिले को जारी रखते हुए आगरा पुलिस की सोमवार रात एक ईनामी बदमाश से मुठभेड़ को गई। पुलिस ने बदमाश को रोंकने का प्रयास किया तो उसने पुलिस टीम पर फा​यरिंग कर दी। जबाव में पुलिस ने भी उस पर गोली चलाई तो वो घायल होकर वहीं गिर पड़ा। इस मुठभेड़ में एसओ भी गोली लगने से घायल हो गया। साथ रहे पुलिसकर्मियों ने गंभीर रूप से घायल बदमाश और थानाइंचार्ज को अस्पताल पहुंचाया। बताया जाता है कि दबोचे गए बदमाश के खिलापफ मथुरा, आगरा, फिरोजाबाद व मैनपुरी सहित कई जिलो अपराधिक वारदातों के मुकदमे दर्ज हैं। वो काफी दिनों से फरार था, जिसके बाद उसके उस पर 25 हजार रूपए का इनाम घोषित किया गया था। प्राप्त जानकारी के अनुसार आगरा के वैदपुरा थाना इंचार्ज सत्येन्द्र सिंह सोमवार रात अपनी टीम के गस्त कर रहे थे। तभी रास्ते में बिचपुरी खेड़ा गांव के पास उन्हे एक बाइक आती दिखाई दी। संदेह होने पर पुलिस ने बाइक सवार दोनों युवकों को रूकने का इशारा किया तो बाइक वो भागने का प्रयास करने लगे। पुलिस टीम ने घेराबंकी शुरू की तो उन लोगों ने गोली चला दी, जो सत्येन्द्र सिंह को लग गई। टीम में रहे कुछ सिपाहियों ने एसओ को संभाला जबकि अन्य लोगों ने बदमाश पर जवाबी फायरिंग शुरु कर दी। मुठभेड़ के दौरान एक बदमाश गोली लगने से घायल होकर वहीं गिर पड़ा, जबकि उसका साथी वहां से भाग निकला। गिरफ्त में आए बदमाश ने अपना नाम हैण्डपम्प कालोनी मथुरा निवासी कलाम बताया जबकि फरार हुए अपने साथी का नाम फिरोजाबाद के सिरसागंज निवासी सौरभ बताया। पुलिस के मुताबिक दोनों के ऊपर 25—25 हजार रूपए का इनाम घोषित था।