महाराष्ट्र: देवेंद्र फडणवीस ने मुख्यमंत्री पद से दिया इस्तीफा, बोले-बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी बनी

Devendra Fadnavis
महाराष्ट्र: देवेंद्र फडणवीस ने मुख्यमंत्री पद से दिया इस्तीफा, सरकार बनाने का रास्ता नहीं हुआ साफ

मुंबई। महाराष्ट्र में सरकार बनाने को लेकर संकट खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। बीजेपी और शिवसेना के बीच घमासान जारी है। इस बीच देवेंद्र फडणवीस राज्यपाल से मिलने राजभवन पहुंचे हैं, जहां उन्होंने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया है। उधर, शिवसेना नेता संजय राउत एनसीपी चीफ शरद पवर से मुलाकात करने पहुंचे हैं।

Crisis To Form Government In Maharashtra Devendra Fadnavis Resigns As Chief Minister :

बीजेपी या शिवसेना में से अभी तक किसी ने भी सरकार बनाने का दावा नहीं किया, ऐसे में राजनीतिक संकट और गहराता जा रहा है। इस बीच कांग्रेस ने अपने सभी विधायकों की एक बैठक बुलाई है। महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर जारी असमंजस के बीच फडणवीस बीजेपी के नेताओं के साथ राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मिलने के लिए पहुंचे और मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया।

विधानसभा का कार्यकाल शनिवार को खत्म हो रहा है, मगर अबतक तय नहीं हो सका है कि सरकार कौन बनाएगा? एक तरफ शिवसेना है जो 50-50 फॉर्मूले के तहत सीएम पद पर अड़ी है, दूसरी ओर बीजेपी है जो सीएम पद शिवसेना से बांटना नहीं चाहती है। शिवसेना ने तो अपने विधायकों को मुंबई के रंगशारदा होटल में रख दिया है ताकि किसी भी तरह की खरीद फरोख्त से वो बच सकें. देर रात आदित्य ठाकरे रंगशारदा में विधायकों से मिलने पहुंचे।

मुंबई। महाराष्ट्र में सरकार बनाने को लेकर संकट खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। बीजेपी और शिवसेना के बीच घमासान जारी है। इस बीच देवेंद्र फडणवीस राज्यपाल से मिलने राजभवन पहुंचे हैं, जहां उन्होंने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया है। उधर, शिवसेना नेता संजय राउत एनसीपी चीफ शरद पवर से मुलाकात करने पहुंचे हैं। बीजेपी या शिवसेना में से अभी तक किसी ने भी सरकार बनाने का दावा नहीं किया, ऐसे में राजनीतिक संकट और गहराता जा रहा है। इस बीच कांग्रेस ने अपने सभी विधायकों की एक बैठक बुलाई है। महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर जारी असमंजस के बीच फडणवीस बीजेपी के नेताओं के साथ राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मिलने के लिए पहुंचे और मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया। विधानसभा का कार्यकाल शनिवार को खत्म हो रहा है, मगर अबतक तय नहीं हो सका है कि सरकार कौन बनाएगा? एक तरफ शिवसेना है जो 50-50 फॉर्मूले के तहत सीएम पद पर अड़ी है, दूसरी ओर बीजेपी है जो सीएम पद शिवसेना से बांटना नहीं चाहती है। शिवसेना ने तो अपने विधायकों को मुंबई के रंगशारदा होटल में रख दिया है ताकि किसी भी तरह की खरीद फरोख्त से वो बच सकें. देर रात आदित्य ठाकरे रंगशारदा में विधायकों से मिलने पहुंचे।