सीआरपीएफ़ जवान ने अपने ही साथियों पर की अंधाधुंध फायरिंग, चार की मौत

रायपुर। छत्तीसगढ़ के माओवाद प्रभावित बीजापुर ज़िले में सीआरपीएफ के चार लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी गई है। पुलिस का कहना है कि सीआरपीएफ के ही एक जवान ने अपनी एके-47 से साथियों पर गोली चलाई, जिसमें दो सब इंस्पेक्टर, एक असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर और एक कॉन्सटेबल मारे गये हैं। सीआरपीएफ डीआईजी सुंदरराज ने बताया कि 168वीं बटालियन के जवान संत राम (यूपी) ने फायरिंग की। उसे हिरासत में ले लिया गया है।

मिली जानकारी के मुताबिक, इस हमले में एक सिपाही भी घायल है जिसका इलाज रायपुर के एक हॉस्पिटल में चल रहा है। इलाके के डीआईजी पी सुंदरराज के अनुसार, ‘जिले के बांसागुड़ा कैंप में सीआरपीएफ की 168वीं बटालियन में एक जवान ने अपने ही साथियों पर हमला किया जिसमें चार जवानों की मौत हो गई और एक घायल है। उन्होंने कहा कि मामले की जांच जारी है।

{ यह भी पढ़ें:- कलयुगी बेटी ने प्रेमी संग मिल कर डाली पिता की हत्या }

सूत्रों की माने तो बासागुड़ा सीआरपीएफ़ कैंप में जवानों और अफसरों के बीच कुछ समय से तनाव का माहौल था। एएसआई गजानंद और कांस्टेबल संत राम में रंजिश थी। विवाद ड्यूटी को लेकर था। इनके बीच शुक्रवार को भी झड़प जैसी स्थिति बन गई थी। तभी से माहौल तनावपूर्ण बना हुआ था। मारे गए चारों लोग विवाद के सिलसिले में गजानंद की तरफदारी कर रहे थे। शनिवार दोपहर एक बार फिर संत राम और गजानंद में कहासुनी हुई। शाम होते-होते विवाद गहरा गया। इस दौरान कई जवान मौके पर थे। संत राम ने अपनी राइफल लोड की। वह काफी देर चिल्लाता रहा और फिर अचानक गोलियां बरसाना शुरू कर दी।

{ यह भी पढ़ें:- इंडियाज मोस्ट वॉन्टेड के एंकर सुहैब इलियासी को पत्नी की हत्या मामले में उम्र कैद }

Loading...