1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. Crypto Market Crash : Crypto का फूटा बुलबुला? Bitcoin की 70 फीसदी घटी वैल्यू

Crypto Market Crash : Crypto का फूटा बुलबुला? Bitcoin की 70 फीसदी घटी वैल्यू

Crypto Market Crash : दुनिया का क्रिप्टो मार्केट क्रैश हो गया है। दुनिया की सबसे पॉपुलर क्रिप्टोकरेंसी Bitcoin की कीमत 19000 डॉलर से भी कम हो गई है। ये हाई वैल्यू से करीब 70 फीसदी कम है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

Crypto Market Crash : दुनिया का क्रिप्टो मार्केट क्रैश हो गया है। दुनिया की सबसे पॉपुलर क्रिप्टोकरेंसी Bitcoin की कीमत 19000 डॉलर से भी कम हो गई है। ये हाई वैल्यू से करीब 70 फीसदी कम है।

पढ़ें :- Crypto Market Crash : बिटकॉइन में 54 फीसदी तक की बड़ी गिरावट, जानें कितनी रह गई कीमत

इसके अलावा Bitcoin समेत दूसरी कई क्रिप्टोकरेंसी लगातार नीचे गिर रही है। Bitcoin 20 हजार डॉलर के नीचे चली गई है। ये साल 2020 के बाद पहली बार है जब करेंसी में रिकॉर्ड गिरावट के बाद इस वैल्यू पर पहुंच गई है।

बता दें कि Bitcoin दुनिया की सबसे बड़ी क्रिप्टोकरेंसी है। CoinDesk की एक रिपोर्ट के अनुसार, इसमें 9 परसेंट की गिरावट देखी गई है। इससे इसकी वैल्यू 19,000 डॉलर से भी कम हो गई है। इस वैल्यू पर करेंसी पिछली बार नवंबर 2020 में थी। Bitcoin की हाई वैल्यू 69,000 डॉलर तक गई थी।

हालांकि, अब क्रिप्टोकरेंसी में लगातार गिरावट जारी है। अब तक करेंसी की वैल्यू 70 परसेंट तक कम हो गई है। Ethereum की कीमत में भी भारी गिरावट दर्ज की गई है। दूसरी सबसे लोकप्रिय करेंसी Ethereum लगातार नीचे गिर रही है।

बता दें कि क्रिप्टोकरेंसी इंडस्ट्री अभी काफी उथल-पुथल के दौर से गुजर रही है। इनवेस्टर्स रिस्क वाले एसेट्स को लगातार बेच रहे हैं। क्रिप्टोकरेंसी प्लेटफॉर्म Celsius Network ने इस महीने कहा था कि वो सभी विड्रॉ और ट्रांसफर को रोक रहा है।

पढ़ें :- Crypto Market Crash: क्रिप्टो बाजार में हाहाकार, बिटक्वाइन 12 फीसदी से ज्यादा टूटा, भूचाल से निवेशक धराशाई

प्लेटफॉर्म के करीब 1.7 मिलियन कस्टमर्स हैं। ऐसे में बड़ा सवाल उठाया गया है। इन कस्टमर्स को इसका एक्सेस कब मिलेगा? हालांकि, कई क्रिप्टो एक्सपर्ट्स का मानना है कि इस साल तक इंडस्ट्री की हालत ऐसी ही रह सकती है। इसमें अगले साल से सुधार देखने को मिल सकता है।

एक्सपर्ट्स के अनुसार, युद्ध और दूसरे कई फैक्टर्स हैं जिस वजह से इंडस्ट्री की हालत खराब है।लेकिन, इसमें साल 2023 की दूसरी तिमाही से सुधार देखा जा सकता है, लेकिन फिलहाल क्रिप्टो बाजार की हालत काफी ज्यादा खराब है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...