दिल्ली में नौकरशाही और सरकार के बीच तनातनी जारी, सीएम की मांफी पर डटी आईएएस एसोसिएशन

दिल्ली में नौकरशाही और सरकार के बीच तनातनी जारी
दिल्ली में नौकरशाही और सरकार के बीच तनातनी जारी, सीएम की मांफी पर डटी आईएएस एसोसिएशन

नई दिल्ली। दिल्ली सरकार के मुख्य सचिव अंशुल प्रकाश के साथ आम आदमी पार्टी के विधायकों द्वारा की गई मारपीट के मामले को भले ही एक सप्ताह हो गया हो, लेकिन दिल्ली प्रदेश सरकार की नौकरशाही और सरकार के बीच का तनाव खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। सरकार जहां नौकरशाहों से दिल्ली के कामकाजों को प्रभावित न करने की अपील कर रही है, वहीं आईएएस एसोसिएशन सीएम केजरीवाल की मांफी की मांग पर डटी हुई।

इस बीच खबरें आ रहीं हैं कि दिल्ली सरकार के मंत्रियों के एक दल ने उपराज्यपाल अनिल बैजल से मुलाकात कर सरकार और नौकरशाहों ​के बीच मौजूद तनावपूर्ण हालातों में हस्तक्षेप करने को कहा है।

{ यह भी पढ़ें:- केजरीवाल के साथ भूख हड़ताल पर बैठे सत्येन्द्र जैन की हालत बिगड़ी,अस्पताल में भर्ती }

वहीं दूसरी ओर दिल्ली के अधिकारियों के एक फोरम ने केन्द्रीय कैबिनेट सचिव पीके सिन्हा से मुलाकात कर दिल्ली की आप सरकार के अतंर्गत बने काम करने के तनावपूर्ण माहौल का मुद्दा उठाया है। बताया जा रहा है कि कैबिनेट सचिव ने अधिकारियों को बात को ध्यान से सुनने के बाद उनकी परेशानियों के प्रति स्वीकरोक्ति जताते हुए उनका पूरा साथ देने का वादा किया है। इसके साथ ही उन्होंने अधिकारियों से दिल्ली की जनता के हितों को ध्यान में रखने की अपील की है।

केन्द्रीय कैबिनेट सचिव की अपील पर गौर करते हुए डानिक्स (DANICS) एसोसिएशन ने सशर्त काम पर लौटने की फैसला किया है। ​नौकरशाहों का कहना है कि जब तक केजरीवाल मांफी नहीं मांगते तब तक वे पूरी तरह से काम पर नहीं लौटेंगे। लेकिन दिल्लीवासियों को हो रही असुविधाओं को ध्यान में रखते हुए वे केवल लिखित आदेशों को ही स्वीकार करेंगे। अधिकारी न तो दिल्ली सरकार की किसी बैठक में हिस्सा लेंगे और न ही किसी प्रकार के मौखिक या टेलीफोनिक आदेशों को स्वीकार करेंगे। जिसका सीधा मतलब यही निकाला जा रहा है कि दिल्ली सरकार और नौकरशाही के बीच छिड़ चुकी जंग जल्द खत्म होने वाली नहीं है।

{ यह भी पढ़ें:- तीन मंत्रियों संग धरने पर बैेठे एलजी से नाराज अरविन्द केजरीवाल }

वहीं दूसरी ओर दिल्ली सरकार के उप राज्यपाल अनिल बैजल ने दो दिनों की जांच के बाद पूरे मामले पर प्राथमिक रिपोर्ट बनाकर शनिवार को केन्द्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह को सौंप दी है।

नई दिल्ली। दिल्ली सरकार के मुख्य सचिव अंशुल प्रकाश के साथ आम आदमी पार्टी के विधायकों द्वारा की गई मारपीट के मामले को भले ही एक सप्ताह हो गया हो, लेकिन दिल्ली प्रदेश सरकार की नौकरशाही और सरकार के बीच का तनाव खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। सरकार जहां नौकरशाहों से दिल्ली के कामकाजों को प्रभावित न करने की अपील कर रही है, वहीं आईएएस एसोसिएशन सीएम केजरीवाल की मांफी की मांग पर डटी हुई। इस बीच…
Loading...