1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. CSIR-CIMAP ने हर्ब आधारित हैंड सैनिटाइज़र बनाने के लिए इस कंपनी से किया अनुबंध

CSIR-CIMAP ने हर्ब आधारित हैंड सैनिटाइज़र बनाने के लिए इस कंपनी से किया अनुबंध

सीएसआईआर-केन्द्रीय औषधीय एवं सगंध पौधा संस्थान (CSIR-CIMAP), लखनऊ ने हैंड सैनिटाइज़र की तकनीक को मेसर्स प्रहवा इंडिया प्राइवेट लिमिटेड, गाजियाबाद को हस्तांतरित किया है । सीएसआईआर-सीमैप, लखनऊ ने विकसित हैंड सैनिटाइज़र बनाने की तकनीक उद्योगों के हस्तांतरण के लिए तैयार है ।

By संतोष सिंह 
Updated Date

Csir Cimap Ties Up With This Company To Manufacture Herb Based Hand Sanitizers

लखनऊ । सीएसआईआर-केन्द्रीय औषधीय एवं सगंध पौधा संस्थान (CSIR-CIMAP), लखनऊ ने हैंड सैनिटाइज़र की तकनीक को मेसर्स प्रहवा इंडिया प्राइवेट लिमिटेड, गाजियाबाद को हस्तांतरित किया है । सीएसआईआर-सीमैप, लखनऊ ने विकसित हैंड सैनिटाइज़र बनाने की तकनीक उद्योगों के हस्तांतरण के लिए तैयार है ।

पढ़ें :- पीएम आवास में बैठक में साढ़े तीन घंटे हुई मंथन, कश्मीरी नेताओं ने जल्द चुनाव कराने की उठाई मांग

कंपनी ने सीएसआईआर-सीमैप से हैंड सैनिटाइज़र की तकनीकी को प्राप्त कर अपने ब्रांड का उत्पाद बाजार में उतारेंगे । इस समझौते पत्र पर मेसर्स प्रहवा इंडिया प्राइवेट लिमिटेड, गाजियाबाद की निदेशक, सुदेश यादव व सीएसआईआर-सीमैप के प्रशासनिक अधिकारी भास्कर देवरी ने हस्ताक्षर किए । कंपनी की निदेशक सुदेश यादव ने बताया कि अभी हैंड सैनिटाइज़र का उत्पादन सीएसआईआर-सीमैप में बने पाइलट प्लांट से कराने का निर्णय लिया गया है, जिससे यह महत्वपूर्ण उत्पाद जन समूह को जल्दी से जल्दी बाज़ार में उपलब्ध हो सके ।

सीएसआईआर-सीमैप के मुख्य वैज्ञानिक डॉ. सौदान सिंह ने बताया कि इन हर्बल उत्पादों को सीएसआईआर-सीमैप ने वैज्ञानिक रूप से परीक्षण किया गया है। ये उत्पाद ज्यादातर सगंध एवं औषधीय पौधों से बने होते हैं। इस कंपनी द्वारा उनके उत्पादन से देश में औषधीय व सगंध पौधों की खेती करने वाले किसानों को भी आर्थिक लाभ होगा । इस मौके पर डॉ. रमेश के श्रीवास्तव, डॉ. अनिरबन पाल, डॉ. राम सुरेश शर्मा आदि वैज्ञानिक मौजूद थे ।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
X