नियमों को ताक पर रखकर बैंक मैनेजर ने बदले कैबिनेट मंत्री इकबाल महमूद के पैसे, जाँच शुरू

सम्भल: उत्तर प्रदेश के संभल जनपद में एचडीएफसी बैंक में नियमों को ताक पर रखकर कैबिनेट मंत्री के लिए बुधवार देर शाम तक बैंक खोलकर पैसे बदलना मैनेजर के लिए भारी पड़ गया। गुरुवार देर शाम गाजियाबाद से आई टीम ने बैंक में जरूरी दस्तावेज खंगाले और मौखिक रूप से जवाब तलब भी किया है।



बुधवार देर शाम कैबिनेट मंत्री नवाब इकबाल महमूद का काफिला बैंक पहुंचा और मंत्री ने अपने चार हजार रुपये बैंक में बदले। उनके साथ आए लोगों ने पैसे बदल लिए। इस विवाद होने लगा। इसी बैंक के सामने दिन में पुलिस ने लाठियां भांजकर उन लोगों को भगाया था जो धूप में खड़े होकर अपनी बारी की प्रतीक्षा कर रहे थे। बैंक प्रबंधतंत्र का व्यवहार आम लोगों के लिए गलत होने की लगातार शिकायतें भी आ रही थीं। गुरुवार को जब मामला पूरी तरह प्रदेश के विभिन्न जनपदों में छाने लगा तो गाजियाबाद से देर शाम एक टीम पहुंची और बैंक के कागजात देखने में जुट गई।



सूत्र बताते हैं कि बैंक में गाजियाबाद से ऑडिटर आए और कैश की पर्ची और मौजूदा कैश का मिलान भी किया। कैबिनेट मंत्री नवाब इकबाल महमूद ने कहा कि शुक्रवार को लखनऊ में कैबिनेट की बैठक है। जाने के लिए महज चार हजार रुपये बैंक में बदलने चला गया था। मंत्री का बैंक जाना कोई गुनाह तो नहीं है। मंत्री होने के साथ ही मैं एक आम नागरिक भी हूं और मेरी जरूरतें भी हैं। शाम के समय इसीलिए गया था कि मालूम चला कि बैंक रात के आठ बजे तक खुलता है। उनके जाने के दौरान बैंक खुला था। हमने नहीं खुलवाया।