यूपी के 28 जिलों में अलर्ट, 5 अप्रैल से 7 अप्रैल के बीच आ सकती है आंधी

a

लखनऊ। मौसम विभाग ने पांच से सात अप्रैल के बीच आंधी का अलर्ट जारी किया है। अफगानिस्तान से चलने वाले तूफान से बनने वाले पश्चिमी विक्षोभ के कारण पूर्वी यूपी के कुल 28 जिलों को अलर्ट जारी किया गया है। भारत सरकार के पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय की ओर से पत्र भेजकर यूपी, मध्य प्रदेश और राजस्थान सरकार को पत्र भेजा गया है।

Cyclone Alert Issued In 28 Districts Of Uttar Pradesh :


पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय भारत सरकार की ओर से मौसम केन्द्र लखनऊ को पत्र भेजकर नजर बनाए रखने का निर्देश जारी किया गया है। मौसम विभाग ने सभी संबंधित जिलों के जिलाधिकारी को पत्र भेजकर सुरक्षा के उपाय करने और लोगों को दो दिनों तक बाहर निकलने के दौरान सचेत रहने के लिए कहा गया है।

साइक्लोन का असर पूर्वी यूपी के कुशीनगर, सिद्धार्थनगर और महाराजगंज समेत यूपी के कुल 28 जिलों में रहेगा। इसमें सहारनपुर, मुजफ्फरनगर, बिजनौर, बागपत, मेरठ, गाजियाबाद, गौतमबुद्धनगर, अमरोहा, मुरादाबाद, बुलन्दशहर, अलीगढ़, मथुरा, हाथरसए एटा, फिरोजाबाद, आगरा, महोबा, हमीरपुर, जालौन, झांसी, बलरामपुर, श्रावस्ती, बहराइच, खीरी, पीलीभीत और आसपास के शहर शामिल है।

पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय की ओर से जारी पत्र के अनुसार धूल भरे तूफान के 5 से 7 अप्रैल के बीच आने का पूर्वानुमान है। बताया गया है कि इस दौरान 40 से 50 किमी की स्पीड से हवाएं चल सकती हैं।

आसमान में धूल भरी आंधी के कारण अंधेरा छाने की आशंका भी जताई जा रही है। पांच अपैल को सुबह 8.30 बजे से सात अप्रैल की सुबह 8.30 बजे तक का अलर्ट जारी किया गया है। इसके अलावा साइक्लोन का उत्तर मध्य प्रदेश के अलावा पूर्वी राजस्थान के शहरों में भी रहेगा।

लखनऊ। मौसम विभाग ने पांच से सात अप्रैल के बीच आंधी का अलर्ट जारी किया है। अफगानिस्तान से चलने वाले तूफान से बनने वाले पश्चिमी विक्षोभ के कारण पूर्वी यूपी के कुल 28 जिलों को अलर्ट जारी किया गया है। भारत सरकार के पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय की ओर से पत्र भेजकर यूपी, मध्य प्रदेश और राजस्थान सरकार को पत्र भेजा गया है।


पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय भारत सरकार की ओर से मौसम केन्द्र लखनऊ को पत्र भेजकर नजर बनाए रखने का निर्देश जारी किया गया है। मौसम विभाग ने सभी संबंधित जिलों के जिलाधिकारी को पत्र भेजकर सुरक्षा के उपाय करने और लोगों को दो दिनों तक बाहर निकलने के दौरान सचेत रहने के लिए कहा गया है।

साइक्लोन का असर पूर्वी यूपी के कुशीनगर, सिद्धार्थनगर और महाराजगंज समेत यूपी के कुल 28 जिलों में रहेगा। इसमें सहारनपुर, मुजफ्फरनगर, बिजनौर, बागपत, मेरठ, गाजियाबाद, गौतमबुद्धनगर, अमरोहा, मुरादाबाद, बुलन्दशहर, अलीगढ़, मथुरा, हाथरसए एटा, फिरोजाबाद, आगरा, महोबा, हमीरपुर, जालौन, झांसी, बलरामपुर, श्रावस्ती, बहराइच, खीरी, पीलीभीत और आसपास के शहर शामिल है।

पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय की ओर से जारी पत्र के अनुसार धूल भरे तूफान के 5 से 7 अप्रैल के बीच आने का पूर्वानुमान है। बताया गया है कि इस दौरान 40 से 50 किमी की स्पीड से हवाएं चल सकती हैं।

आसमान में धूल भरी आंधी के कारण अंधेरा छाने की आशंका भी जताई जा रही है। पांच अपैल को सुबह 8.30 बजे से सात अप्रैल की सुबह 8.30 बजे तक का अलर्ट जारी किया गया है। इसके अलावा साइक्लोन का उत्तर मध्य प्रदेश के अलावा पूर्वी राजस्थान के शहरों में भी रहेगा।