फैनी चक्रवात को लेकर शुरू हुई सियासत, पीएम मोदी के साथ समीक्षा बैठक नहीं करेंगी ममता बनर्जी

pm modi and mamta
पीएम मोदी और ममता के बीच बढ़ी दूरी, फैनी चक्रवात को लेकर पीएम के साथ बैठक नहीं करेंगी ममता

नई दिल्ली। फैनी चक्रवात से प्रभावित ओडिशा में क्षति का आकलन करने के लिए सोमवार पीएम मोदी ने हवाई सर्वेक्षण किया। इस दौरान उनके साथ सीएम नवीन पटनायक भी मौजूद थे। इस दौरान पीएम ने कहा कि राज्य और केन्द्र सरकार के बीच अच्छा संवाद रहा। मैं भी निरीक्षण कर रहा था। ओडिशा के लोगों ने जिस तरह हर निर्देश का पालन किया सरकार उसकी सराहना करती है।

Cyclone Fani Mamata Banerjee Refuses Review Meeting With Pm Narendra Modi :

पीएम मोदी ने ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक की तारीफ की। इसके साथ ही वहां के लोगों की तारीफ की और केंद्र सरकार की ओर से एक हजार करोड़ रुपये और जारी करने के लिए कहा। पीएम ने कहा कि भारत सरकार की टीम आयेगी और नुकसान का जायजा लेगी। जिन परिवारों ने अपनों को खोया है उन्हें दो लाख रुपये और घायलों को 50 हजार रुपये की सुविधा भी भारत सरकार देगी।

बताया जा रहा है कि ओडिशा दौरे के बाद पीएम मोदी पश्चिम बंगाल में फैनी से प्रभावित क्षेत्रों का दौरान करना चाहते थे लेकिन वहां की सरकार ने कोई सहयोग नहीं दिया। पीएमओ सूत्रों ने बताया कि पीएम मोदी ओडिशा की तरह पश्चिम बंगाल में भी आज चक्रवाती तूफान ‘फोनी’ के बाद उत्पन्न स्थिति के लिए समीक्षा बैठक करना चाहते थे, इसके लिए वहां की सरकार को पत्र भी लिखा गया।

लेकिन राज्य सरकार ने जवाब में कहा कि सरकारी अधिकारी चुनाव ड्यूटी में बिजी हैं, इसलिए समीक्षा बैठक नहीं हो सकती। सूत्रों की माने तो ममता बनर्जी को ऐसा लगता है कि पीएम मोदी पश्चिम बंगाल में ऐसा करत हैं तो तो इसका लाभ सीधे तौर पर बीजेपी को मिलेगा। इस लिए उन्होंने समीक्षा बैठक करने से मना कर दिया।

नई दिल्ली। फैनी चक्रवात से प्रभावित ओडिशा में क्षति का आकलन करने के लिए सोमवार पीएम मोदी ने हवाई सर्वेक्षण किया। इस दौरान उनके साथ सीएम नवीन पटनायक भी मौजूद थे। इस दौरान पीएम ने कहा कि राज्य और केन्द्र सरकार के बीच अच्छा संवाद रहा। मैं भी निरीक्षण कर रहा था। ओडिशा के लोगों ने जिस तरह हर निर्देश का पालन किया सरकार उसकी सराहना करती है। पीएम मोदी ने ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक की तारीफ की। इसके साथ ही वहां के लोगों की तारीफ की और केंद्र सरकार की ओर से एक हजार करोड़ रुपये और जारी करने के लिए कहा। पीएम ने कहा कि भारत सरकार की टीम आयेगी और नुकसान का जायजा लेगी। जिन परिवारों ने अपनों को खोया है उन्हें दो लाख रुपये और घायलों को 50 हजार रुपये की सुविधा भी भारत सरकार देगी। बताया जा रहा है कि ओडिशा दौरे के बाद पीएम मोदी पश्चिम बंगाल में फैनी से प्रभावित क्षेत्रों का दौरान करना चाहते थे लेकिन वहां की सरकार ने कोई सहयोग नहीं दिया। पीएमओ सूत्रों ने बताया कि पीएम मोदी ओडिशा की तरह पश्चिम बंगाल में भी आज चक्रवाती तूफान 'फोनी' के बाद उत्पन्न स्थिति के लिए समीक्षा बैठक करना चाहते थे, इसके लिए वहां की सरकार को पत्र भी लिखा गया। लेकिन राज्य सरकार ने जवाब में कहा कि सरकारी अधिकारी चुनाव ड्यूटी में बिजी हैं, इसलिए समीक्षा बैठक नहीं हो सकती। सूत्रों की माने तो ममता बनर्जी को ऐसा लगता है कि पीएम मोदी पश्चिम बंगाल में ऐसा करत हैं तो तो इसका लाभ सीधे तौर पर बीजेपी को मिलेगा। इस लिए उन्होंने समीक्षा बैठक करने से मना कर दिया।