गुजरात: दलित दूल्हे के घोड़ी चढ़ने पर मचा बवाल, पुलिस सुरक्षा में हुई शादी

गुजरात: दलित दूल्हे के घोड़ी चढ़ने पर मचा बवाल, पुलिस सुरक्षा में हुई शादी
गुजरात: दलित दूल्हे के घोड़ी चढ़ने पर मचा बवाल, पुलिस सुरक्षा में हुई शादी

Dalit Groom Stopped To Riding Horse Cart In Gujarat

अहमदाबाद। गुजरात में अनुसूचित जाति के लोगों पर अत्याचार का सिलसिला जारी है। राजधानी गांधीनगर के माणसा में रविवार को कुछ दबंगों ने दूल्हे को इसलिए घोड़ी से उतार दिया कि वह दलित था। इससे हंगामा मच गया। घटना की सूचना पाते ही मौके पर पुलिस का काफिला आ पहुंचा। इसके बाद पुलिस की कड़ी सुरक्षा-व्यवस्था के बीच बारात रवाना हुई। इस मामले में पुलिस ने 10 लोगों के खिलाफ एट्रोसिटी, धमकी, मारपीट सहित अन्य धाराओं में मामला दर्ज किया है।

दबंगों ने जताई आपत्‍ति

घटना माणसा के पारसा गांव की है। यहां रविवार को अनुसूचित जाति के एक युवक की शादी थी। बारात में बड़ी संख्या में वाल्मीकि समाज के लोग पहुंचे थे। बरात सुबह पारसा गांव से बड़ी धूमधाम से निकली। दूल्हा घोड़ी पर सवार था। लोग डीजे की ताल पर नाच रहे थे, लेकिन पारसा गांव के कुछ दबंगों को आपत्ति थी कि अनुसूचित जाति का युवक घोड़ी पर बारात नहीं निकाल सकता। यह उनका अपमान है। दबंगों ने दूल्हे को घो़ड़ी से उतार दिया। इससे बराती तैश में आ गए और तुरंत पुलिस को सूचना दी।

पुलिस ने शांत कराया मामला

मिली जानकारी के अनुसार माणसा के पारसा गांव में एक दलित युवक की बारात निकली थी। तभी रास्ते में दूसरे समुदाय के लोग आ गए और बारात को रोक दिया और दूल्हे को घोड़ी से नीचे उतार दिया। जिसके बाद यह मामला और गर्मा गया। इस घटना को देखने के बाद आसपास के लोग इकट्ठा हो गए और पुलिस को जानकारी दी गई. तब मौके पर पहुंचकर पुलिस ने कार्यवाही करने की बात कही और मामले को शांत कराया।

 

अहमदाबाद। गुजरात में अनुसूचित जाति के लोगों पर अत्याचार का सिलसिला जारी है। राजधानी गांधीनगर के माणसा में रविवार को कुछ दबंगों ने दूल्हे को इसलिए घोड़ी से उतार दिया कि वह दलित था। इससे हंगामा मच गया। घटना की सूचना पाते ही मौके पर पुलिस का काफिला आ पहुंचा। इसके बाद पुलिस की कड़ी सुरक्षा-व्यवस्था के बीच बारात रवाना हुई। इस मामले में पुलिस ने 10 लोगों के खिलाफ एट्रोसिटी, धमकी, मारपीट सहित अन्य धाराओं में मामला दर्ज किया…