घटना से पहले ही विधायक भीमा मंडावी को पुलिस ने किया था आगह

b

रायपुर। छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित दंतेवाड़ा जिले में नक्सलियों ने मंगलवार को बीजेपी विधायक भीमा मंडावी के वाहन को विस्फोट कर उड़ा दिया। हमले में विधायक भीमा मंडावी सहित पांच की मौत हो गयी थी। हालांकि विधायक बुलेट प्रूफ गाड़ी में थे लेकिन धमाका इतना जोरदार था कि उनकी गाड़ी के परखच्चे उड़ गए। दंतेवाड़ा क्षेत्र बस्तर लोकसभा क्षेत्र में आता है जहां लोकसभा चुनाव के पहले चरण में 11 अप्रैल को मतदान होना है।

Dantewada Naxal Attack Police Requsted To Bjp Mla Bheema Mandavi Not Go There :


हमले के दौरान विधायक मंडावी चुनाव प्रचार कर लौट रहे थे। दंतेवाड़ा में नक्सल प्रभावित क्षेत्र होने के कारण चुनाव प्रचार दोपहर 3 बजे ही खत्म हो गया था। स्पेशल डीजी डीएम अवस्थी ने बताया भाजपा विधायक को पहले ही जानकारी दी गई थी कि कुआकोंडा के पास इस रूट पर सुरक्षा मौजूद नहीं है और उन्हें वहां नहीं जाना चाहिए।

स्पेशल डीजी एंटी नक्सल ऑपरेशन डीएम अवस्थी ने बताय बीजेपी विधायक भीमा मंडावी उनके ड्राइवर की इस हमले में मौत हुई है तीन जवान भी शहीद हुए हैं। बछेली पीएम इंचार्ज ने बताया विधायक को बताया था कि इस रूट पर पर्याप्त सुरक्षा मौजूद नहीं है और उन्हें वहां नहीं जाना चाहिए। चुनाव आयोग ने कहा है कि छत्तीसगढ़ के दंडेवाड़ा क्षेत्र में मंगलवार को हुये नक्सली हमले के बावजूद 11 अप्रैल को बस्तर लोकसभा सीट पर होने वाला मतदान पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार ही होगा।

आयोग ने इस बीच छत्तीसगढ़ के मुख्य निवाचन अधिकारी से हमले के बाद सुरक्षा इंतजामों और मतदान की तैयारी पर रिपोर्ट तलब की थी। सूत्रों के अनुसार सीईओ द्वारा भेजी गई रिपोर्ट में कहा गया है कि पहले और दूसरे चरण के मतदान वाले लोकसभा क्षेत्रों में अधिकतर इलाके नक्सल प्रभावित हैं। मंगलवार के हमले के बाद इन क्षेत्रों में सुरक्षा इंतजामों की समीक्षा की गयी और सभी एहतियाती कदम उठाने के निर्देश दिए गए हैं।

रायपुर। छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित दंतेवाड़ा जिले में नक्सलियों ने मंगलवार को बीजेपी विधायक भीमा मंडावी के वाहन को विस्फोट कर उड़ा दिया। हमले में विधायक भीमा मंडावी सहित पांच की मौत हो गयी थी। हालांकि विधायक बुलेट प्रूफ गाड़ी में थे लेकिन धमाका इतना जोरदार था कि उनकी गाड़ी के परखच्चे उड़ गए। दंतेवाड़ा क्षेत्र बस्तर लोकसभा क्षेत्र में आता है जहां लोकसभा चुनाव के पहले चरण में 11 अप्रैल को मतदान होना है।


हमले के दौरान विधायक मंडावी चुनाव प्रचार कर लौट रहे थे। दंतेवाड़ा में नक्सल प्रभावित क्षेत्र होने के कारण चुनाव प्रचार दोपहर 3 बजे ही खत्म हो गया था। स्पेशल डीजी डीएम अवस्थी ने बताया भाजपा विधायक को पहले ही जानकारी दी गई थी कि कुआकोंडा के पास इस रूट पर सुरक्षा मौजूद नहीं है और उन्हें वहां नहीं जाना चाहिए।

स्पेशल डीजी एंटी नक्सल ऑपरेशन डीएम अवस्थी ने बताय बीजेपी विधायक भीमा मंडावी उनके ड्राइवर की इस हमले में मौत हुई है तीन जवान भी शहीद हुए हैं। बछेली पीएम इंचार्ज ने बताया विधायक को बताया था कि इस रूट पर पर्याप्त सुरक्षा मौजूद नहीं है और उन्हें वहां नहीं जाना चाहिए। चुनाव आयोग ने कहा है कि छत्तीसगढ़ के दंडेवाड़ा क्षेत्र में मंगलवार को हुये नक्सली हमले के बावजूद 11 अप्रैल को बस्तर लोकसभा सीट पर होने वाला मतदान पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार ही होगा।

आयोग ने इस बीच छत्तीसगढ़ के मुख्य निवाचन अधिकारी से हमले के बाद सुरक्षा इंतजामों और मतदान की तैयारी पर रिपोर्ट तलब की थी। सूत्रों के अनुसार सीईओ द्वारा भेजी गई रिपोर्ट में कहा गया है कि पहले और दूसरे चरण के मतदान वाले लोकसभा क्षेत्रों में अधिकतर इलाके नक्सल प्रभावित हैं। मंगलवार के हमले के बाद इन क्षेत्रों में सुरक्षा इंतजामों की समीक्षा की गयी और सभी एहतियाती कदम उठाने के निर्देश दिए गए हैं।