मंदिर में लड़की ने निकाल दी अपनी आंख, लोग बोले- ‘शरीर में देवी दुर्गा प्रवेश कर गई’

darbhanga devi durga, मंदिर में आंख चढ़ाई
मंदिर में लड़की ने निकाल दी अपनी आंख, लोग बोले- 'शरीर में देवी दुर्गा प्रवेश कर गई'

पटना। बिहार के दरभंगा से एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां एक लड़की ने देवी मां को खुश करने के लिए अपनी एक आंख ही निकाल दी। यह पूरा मामला मंदिर परिसर में ही घटित हुआ। ये नजारा देख आस-पास मौजूद लोग हैरान रह गए। लोगों ने लड़की को तुरंत हॉस्पिटल में एडमिट किया गया। लड़की की हालत अभी भी नाजुक बताई जा रही है। हॉस्पिटल ले जाते समय भी लड़की देवी मां पर आंख चढ़ाने की जिद करती रही।

Darbhanga Girl Offered Her Eye To Goddess Durga :

ये मामला बहेड़ी थाना अंतर्गत सिरुआ गांव का है। चैती नवरात्र के मौके पर कोमल दूसरी लड़कियों के साथ कलश लेकर मंदिर पहुंची थी। इस दौरान मंदिर में चक्षुदान की प्रक्रिया चल रही थी। कोमल ने अपनी सहेलियों से कहा कि वह खुद भी चक्षुदान करना चाहती है। लोगों ने उसकी बात को मजाक समझ अनसुना कर दिया। कोमल सिर झुकाये खड़ी रही। कुछ ही देर बाद उसने अपनी बांयी आंखो को अंगुलियों से बाहर निकाल लिया। उसकी आंखों से टप-टप खून की बूंदे गिरने लगी।

लड़की को देख वहां के लोग भी हैरान रह गए। कुछ लोग कह रहे हैं कि लड़की के शरीर में देवी दुर्गा प्रवेश कर गई थी, जिससे उसने यह कदम उठाया। वहीं कुछ का कहना है कि लड़की मन्नत के चलते अपनी आंख चढ़ाने जा रही थी। वहीं लड़की की हालत नाजुक देख मंदिर में मौजूद लोगों ने उसके परिवार के लोगों को घटना की सूचना दी। आनन-फानन में उसे डीएमसीएच में भर्ती कराया गया, जहां उसका उपचार चल रहा है। डॉक्टरों ने कई जांच करवाया है। देर शाम रिपोर्ट आने के बाद ही स्थिति स्पष्ट हो पायेगी, लेकिन जानकार बताते हैं कि कोमल की बायीं आंख की रोशनी चले जाने का खतरा है।

ग्रामीणों का कहना है कि कोमल मां दुर्गा की भक्त है और उसका ज्यादा वक्त पूजा पाठ में ही गुजरता है। शुक्रवार को वह कलश यात्रा में भी शामिल थी। कोमल को धर्मशास्त्रों को पढ़ने में भी महारत हासिल है। हालांकि वो पढ़ाई में कमजोर है।

पटना। बिहार के दरभंगा से एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां एक लड़की ने देवी मां को खुश करने के लिए अपनी एक आंख ही निकाल दी। यह पूरा मामला मंदिर परिसर में ही घटित हुआ। ये नजारा देख आस-पास मौजूद लोग हैरान रह गए। लोगों ने लड़की को तुरंत हॉस्पिटल में एडमिट किया गया। लड़की की हालत अभी भी नाजुक बताई जा रही है। हॉस्पिटल ले जाते समय भी लड़की देवी मां पर आंख चढ़ाने की जिद करती रही।ये मामला बहेड़ी थाना अंतर्गत सिरुआ गांव का है। चैती नवरात्र के मौके पर कोमल दूसरी लड़कियों के साथ कलश लेकर मंदिर पहुंची थी। इस दौरान मंदिर में चक्षुदान की प्रक्रिया चल रही थी। कोमल ने अपनी सहेलियों से कहा कि वह खुद भी चक्षुदान करना चाहती है। लोगों ने उसकी बात को मजाक समझ अनसुना कर दिया। कोमल सिर झुकाये खड़ी रही। कुछ ही देर बाद उसने अपनी बांयी आंखो को अंगुलियों से बाहर निकाल लिया। उसकी आंखों से टप-टप खून की बूंदे गिरने लगी।लड़की को देख वहां के लोग भी हैरान रह गए। कुछ लोग कह रहे हैं कि लड़की के शरीर में देवी दुर्गा प्रवेश कर गई थी, जिससे उसने यह कदम उठाया। वहीं कुछ का कहना है कि लड़की मन्नत के चलते अपनी आंख चढ़ाने जा रही थी। वहीं लड़की की हालत नाजुक देख मंदिर में मौजूद लोगों ने उसके परिवार के लोगों को घटना की सूचना दी। आनन-फानन में उसे डीएमसीएच में भर्ती कराया गया, जहां उसका उपचार चल रहा है। डॉक्टरों ने कई जांच करवाया है। देर शाम रिपोर्ट आने के बाद ही स्थिति स्पष्ट हो पायेगी, लेकिन जानकार बताते हैं कि कोमल की बायीं आंख की रोशनी चले जाने का खतरा है।ग्रामीणों का कहना है कि कोमल मां दुर्गा की भक्त है और उसका ज्यादा वक्त पूजा पाठ में ही गुजरता है। शुक्रवार को वह कलश यात्रा में भी शामिल थी। कोमल को धर्मशास्त्रों को पढ़ने में भी महारत हासिल है। हालांकि वो पढ़ाई में कमजोर है।