उन्नाव और कठुआ पर पीएम मोदी का ट्वीट, हम शर्मसार हैं, न्याय होगा और पूरा होगा

PM Modi, पीएम मोदी
उन्नाव और कठुआ पर पीएम मोदी का ट्वीट, हम शर्मसार हैं, न्याय होगा और पूरा होगा

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पिछले दो दिनों से राष्ट्रीय स्तर पर सुर्खियों में छाए उन्नाव रेप कांड और कठुआ मामले में ट्वीट कर कड़ी प्रतिक्रिया जाहिर की है। पीएम मोदी की ओर से यह टिप्पणी ऐसे समय आई है, जब विपक्ष उनकी चुप्पी को लेकर सवाल उठा रहा था। शुक्रवार को प्रधानमंत्री कार्यालय से एक के बाद एक तीन ट्वीट कर इन दोनों ही घटनाओं की कड़े शब्दों में निंदा की गई। इसके साथ ही प्रधानमंत्री ने पीड़ितों को न्याय और अपराधियों को कड़ी सजा दिलाए जाने का भरोसा भी दिलाया।

प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से किए गए पहले ट्वीट में कहा , “मैंने तो लाल किले से बोलने का साहस किया था कि लड़की से नहीं, लड़कों से पूछो। हमें पारिवारिक व्यवस्था, social values से लेकर न्याय व्यवस्था तक, सभी को इसके लिए मजबूत करना होगा, तभी हम बाबा साहेब के सपनों का भारत बना पाएंगे, न्यू इंडिया बना पाएंगे।”

{ यह भी पढ़ें:- पांडाल हादसे के घायलों से मिलने अस्पताल पहुंचे पीएम मोदी }

पीएमओ के दूसरे ट्वीट में कहा, “जिस तरह की घटनाएं हमने बीते दिनों में देखीं हैं, वो सामाजिक न्याय की अवधारणा को चुनौती देती हैं। पिछले 2 दिनो से जो घटनायें चर्चा में हैं वो निश्चित रूप से किसी भी सभ्य समाज के लिये शर्मनाक है। एक समाज के रूप में, एक देश के रूप में हम सब इस के लिए शर्मसार है।”

उन्होने अपने तीसरे ट्वीट में कहा, “देश के किसी भी राज्य में, किसी भी क्षेत्र में होने वाली ऐसी वारदातें, हमारी मानवीय संवेदनाओं को झकझोर देती हैं। मैं देश को विश्वास दिलाना चाहता हूँ की कोई अपराधी बचेगा नहीं, न्याय होगा और पूरा होगा। हमारे समाज की इस आंतरिक बुराई को खत्म करने का काम, हम सभी को मिलकर करना होगा।”

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पिछले दो दिनों से राष्ट्रीय स्तर पर सुर्खियों में छाए उन्नाव रेप कांड और कठुआ मामले में ट्वीट कर कड़ी प्रतिक्रिया जाहिर की है। पीएम मोदी की ओर से यह टिप्पणी ऐसे समय आई है, जब विपक्ष उनकी चुप्पी को लेकर सवाल उठा रहा था। शुक्रवार को प्रधानमंत्री कार्यालय से एक के बाद एक तीन ट्वीट कर इन दोनों ही घटनाओं की कड़े शब्दों में निंदा की गई। इसके साथ ही प्रधानमंत्री ने पीड़ितों…
Loading...