दुबई। अभिनेत्री श्रीदेवी के शव को भारत लाने की आखिरी कानूनी अड़चन दूर हो गई है। दुबई सरकार के सरकारी वकील ने श्रीदेवी के शव को परिजनों के सुपुर्द करने की अनुमति दे दी है। जिसके बाद मंलगवार की शाम तक शव को भारत लाया जा सकेगा। जहां बुधवार को शव का अंतिम संस्कार किया जाएगा।

तीन दिनों तक दुबई पुलिस की गहन पड़ताल के बाद इस मामले में स्थानीय अदालत ने ​सरकारी वकील के पक्ष की राय ली थी। अदालत ने दुबई सरकार के कानूनों के मुताबिक इस हाईप्रोफाइल केस के तमाम पहलुओं को ध्यान में रखते हुए ऐसा करने का फैसला किया था।

{ यह भी पढ़ें:- मां श्रीदेवी को यादकर जाहन्वी ने शेयर किया स्केच }

अब खबर आ रही है कि सरकारी वकील ने शव के दोबारा पोस्टमार्टम करवाने की जरूरत को नकार दिया है। हालांकि यह स्पष्ट नहीं हो सका है कि इस मामले में स्थानीय पुलिस का श्रीदेवी के पति बोनी कपूर की भूमिका को लेकर क्या रूख है।

24 फरवरी को दुबई के होटल में श्रीदेवी की आकस्मिक मौत जिन परिस्थितियों में हुई उसे संदेह की दृष्टि से देखा जा रहा था। दुनिया के सबसे हाईटेक और मुस्तैद पुलिस फोर्सेज में से एक दुबई पुलिस ने इस हाई प्रोफाइल मामले के सभी पहलुओं को परखने में लगी है।

{ यह भी पढ़ें:- पिता के जुल्म से तंग आकर भागी दुबई की राजकुमारी हुई गायब }

जानकारों की माने तो श्रीदेवी के शव को परिजनों के सुपुर्द किए जाने का मतलब इस बात से बिलकुल नहीं निकाला जाना चाहिए कि बोनी कपूर को क्लीन चिट मिल गई है और दुबई पुलिस ने केस को बंद कर दिया है। पूरी संभावनाएं हैं कि दुबई पुलिस और अदालत इस मामले में आगे कार्रवाई करेगी, जिसके लिए बोनी कपूर को तलब किया जा सकता है।