1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. कॉलगर्ल की मौत: सत्ता में आप कितने भी हों ताकतवर, कानून एक दिन सबका लेगा हिसाब?

कॉलगर्ल की मौत: सत्ता में आप कितने भी हों ताकतवर, कानून एक दिन सबका लेगा हिसाब?

थाईलैंड से लखनऊ आई कॉलगर्ल की मौत के बाद उत्तर प्रदेश की राजनीति में तूफान मच गया है। कॉलगर्ल की मौत के पीछे करोबारी व भाजपा के ताकतवर सांसद के बेटे का नाम सामने आ रहा है। वहीं, भाजपा सांसद के बेटे का नाम आते ही पुलिस—प्रशासन ने भी पूरी तरह से चुप्पी साध ली। इस मसले पर कोई भी कुछ बोलने को तैयार नहीं है।

By टीम पर्दाफाश 
Updated Date

Death Of Callgirl No Matter How Powerful You Are In Power The Law Will One Day Be Accounted For By All

लखनऊ। थाईलैंड से लखनऊ आई कॉलगर्ल की मौत के बाद उत्तर प्रदेश की राजनीति में तूफान मच गया है। कॉलगर्ल की मौत के पीछे करोबारी व भाजपा के ताकतवर सांसद के बेटे का नाम सामने आ रहा है। वहीं, भाजपा सांसद के बेटे का नाम आते ही पुलिस—प्रशासन ने भी पूरी तरह से चुप्पी साध ली। इस मसले पर कोई भी कुछ बोलने को तैयार नहीं है। ऐसे में सवाल उठना वाजिब है कि ताकतवर सांसद का नाम आते ही पूरा प्रशासनिक अमला ही खामोस हो गया। विपक्ष का कहना है कि दबाव में लखनऊ पुलिस पूरे मामले को दबाने में जुटी है।

पढ़ें :- पश्चिम बंगाल : बीजेपी कार्यकर्ताओं ने सिर मुंडवा कर टीएमसी में की वापसी, किया प्रायश्चित

विपक्ष के नेता से लेकर सोशल मीडिया पर तामम तरह के सवाल उठाए जा रहे हैं। समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता आईपी सिंह ने इस मुद्दे को लेकर सीबीआई जांच की मांग की है। इसके साथ ही लखनऊ पुलिस की कार्यप्रणाली पर भी सवाल उठाया है।

उधर, भाजपा सांसद ने इस मामले को लेकर लखनऊ पुलिस कमिश्नर डीके ठाकुर को शिकायती पत्र दिया है, जिसमें उन्होंने इसे झूठा बताते हुए कार्रवाई की मांग की है। सपा प्रवक्ता आईपी सिंह ने कहा थाईलैंड से आई कॉलगर्ल की मौत को लेकर मीडिया में ममता तरह की चर्चा चल रही है। इस प्रकरण में बार बार मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया की ‘एक बिल्डर का बेटा इसमें शामिल है ना पुलिस ना मीडिया ने उस बिल्डर और उसके बेटे का नाम जारी किया।

आईपी सिंह ने कहा आज सुबह जब मैंने पत्रकारों के ट्वीट्स देखें तो चौंक गया। आरोप लगा की यह बिल्डर और कोई नहीं भाजपा से रजयसभा सांसद संजय सेठ है और कॉल गर्ल को बुलाने वाला और कोई नहीं उनका बेटा है। सपा प्रवक्ता ने कहा कि मैं यूपी पुलिस को टैग कर अपने आधिकारिक अकाउंट से मांग की यह आरोप गंभीर है, इसकी जांच होनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि अब उन्हें मीडिया के जरिए जानकारी हुई है कि संजय सेठ ने इस पर जवाब देने की जगह उल्टा मुझपर आरोप लगाए है भ्रामक खबर डालने के लिए। उन्होंने कहा कि क्या अब उत्तरप्रदेश में किसी प्रकरण की जांच करने की मांग करना भी अपराध है? सांच को आंच नहीं पूंजीपति होने का इतना अहंकार हो गया है। इसके साथ आईपी सिंह इस प्रकरण की CBI जांच की मांग की है।

पढ़ें :- नोएडा शूटिंग रेंज का नाम चंद्रो तोमर के नाम पर होगा, सीएम योगी का बड़ा ऐलान

आईपी सिंह ने पुलिस से पूछे ये सवाल?
. क्या लड़की के शव का पोस्टमार्टम हुआ, अगर हुआ तो मृत्यु का कारण क्या है?
. शिवम कूक कौन है और वो किसके लिए काम करता है? क्या वो इस वक्त पुलिस की हिरासत में है?
. लड़की के एजेंट सलमान खान और राकेश शर्मा कहां है? वो किसके कहने पर लड़की को लखनऊ ले आए?
. लड़की जिस होटल में रुकी वहां के कैमरे की रिकार्डिंग कहां है? क्या उसे दबाने का प्रयास किया जा रहा है?
. जिस पूंजीपति की मीडिया 4 दिन से बात कर रही है वो कौन है? और क्यूं उसका नाम अभी तक सार्वजनिक नहीं किया गया?

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
X