बता दें कि, इससे पहले कांग्रेस पार्टी इस भर्ती को लेकर सवाल खड़े कर चुकी है। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने भी इस भर्ती को लेकर योगी सरकार पर हमला बोला था। प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर कहा था कि, 69000 शिक्षक भर्ती घोटाला उप्र का व्यापम घोटाला है। इस मामले में गडबड़ी के तथ्य सामान्य नहीं है। डायरियों में स्टूडेंट्स के नाम, पैसे का लेनदेन, परीक्षा केंद्रों में बड़ी हेरफेर, इन गडबड़ियों में रैकेट का शामिल होना ये सब दर्शता है कि इसके तार काफी जगहों से जुड़े हैं।

", "image":[ "https://d2jw2ovwhq08z0.cloudfront.net/wp-content/uploads/2020/06/deepak-singh.jpg" ], "datePublished":"2020-06-15T16:23:18+05:30", "dateModified": "2020-06-15T16:23:59+05:30", "author": { "@type": "Person", "name": "शिव मौर्या" }, "publisher":{ "@type":"Organization", "name":"पर्दाफाश", "logo": { "@type": "ImageObject", "url": "https://hindi.pardaphash.com/logo.png" } } }
  1. हिन्दी समाचार
  2. सहायक अध्यापक भर्ती: दीपक सिंह ने उठाया सवाल, कहा-व्यापम से भी है बड़ा घोटाला

सहायक अध्यापक भर्ती: दीपक सिंह ने उठाया सवाल, कहा-व्यापम से भी है बड़ा घोटाला

Deepak Singh Raised Questions On The Recruitment Of Assistant Teacher Said There Is A Bigger Scam Than Vyapam

By शिव मौर्या 
Updated Date

लखनऊ। उत्तर प्रदेश सहायक अध्यापक भर्ती में सेंध लगाने वालों पर कार्रवाई शुरू हो गयी है। लेकिन यह चेन इतनी बड़ी है कि इस गैंग के सरगना तक पुलिस अभी नहीं पहुंच पायी है। प्रदेश की योगी सरकार पर विपक्ष इस भर्ती को लेकर लगातार निशाना साध रहा है। वहीं, इस बीच कांग्रेस एमएलसी दीपक सिंह ने उत्तर प्रदेश की योगी सरकार पर हमला बोला है।

पढ़ें :- पढाई का ऐसा जुनून रोज बॉर्डर पार करके स्कूल जाते है बच्चे, साथ रखते हैं पासपोर्ट

उन्होंने इस भर्ती को व्यापम से भी बड़ा घोटाला बताया है। इससे पहले भी वह इस भर्ती को लेकर सवाल खड़े कर चुके हैं। कांग्रेस एमएलसी दीपक सिंह ने ट्वीट कर कहा है कि, उप्र सहायक अध्यापक भर्ती घोटाला 69000 का असली टॉपर धर्मेंद्र पटेल अथवा शैलेंद्र सिंह? इसकी जड़ें इतनी गहरी हैं कि यह व्यापम से भी बड़ा घोटाला लगता है।

पढ़ें :- यूपी : 31661 सहायक शिक्षकों की भर्ती का योगी सरकार ने जारी किया आदेश

बता दें कि, इससे पहले कांग्रेस पार्टी इस भर्ती को लेकर सवाल खड़े कर चुकी है। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने भी इस भर्ती को लेकर योगी सरकार पर हमला बोला था। प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर कहा था कि, 69000 शिक्षक भर्ती घोटाला उप्र का व्यापम घोटाला है।

इस मामले में गडबड़ी के तथ्य सामान्य नहीं है। डायरियों में स्टूडेंट्स के नाम, पैसे का लेनदेन, परीक्षा केंद्रों में बड़ी हेरफेर, इन गडबड़ियों में रैकेट का शामिल होना ये सब दर्शता है कि इसके तार काफी जगहों से जुड़े हैं।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...