दिल्ली की जनता ने हिंदू-मुसलमान नहीं विकास के नाम पर किया वोट: अखिलेश यादव

akhilesh yadav
दिल्ली की जनता ने हिंदू-मुसलमान नहीं विकास के नाम पर किया वोट: अखिलेश यादव

लखनऊ। दिल्ली विधानसभा चुनाव के नतीजे आने से पहले जारी हुए एक्ज़िट पोल के बाद राजनीतिक महकमे में हलचल शुरू हो गयी है और पार्टी नेताओं के बयान आने शुरू हो गए हैं। इस बीच समाजवादी पार्टी(सपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष और यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव का बयान सामने आया है। अखिलेश ने कहा, “अरविंद केजरीवाल भारी अतंर से सरकार में वापसी कर रहे हैं। दिल्ली की जनता ने हिंदू मुसलमान के नाम पर नहीं बल्कि विकास के नाम पर वोट किया है। अब जहां-जहां बीजेपी चुनाव लड़ेगी, वहां-वहां हारेगी।”

Delhi Assembly Election 2020 Sp Akhilesh Yadav Arvind Kejriwal Development App Exit Polls :

उत्तर प्रदेश के बाराबंकी जिले में एक कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे अखिलेश ने कहा कि दिल्ली की जनता ने हिंदू-मुसलमान और पाकिस्तान के नाम पर वोट नहीं बल्कि विकास के नाम पर वोट किया है। अब जहां-जहां चुनाव होंगे बीजेपी ऐतिहासिक हार हारती जाएगी। अखिलेश यादव ने कहा कि कई राज्यों में मुंह की खा चुकी भारतीय जनता पार्टी दिल्ली के चुनाव में खाता भी नहीं खोल पाएगी और आम आदमी पार्टी के अरविंद केजरीवाल की एक बार फिर से मुख्यमंत्री के तौर पर ताजपोशी होगी।

अखिलेश यादव ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तंज़ कसते हुए कहा कि सूर्य नमस्कार की बात करने वाले बेरोजगारी के मुद्दे पर कब बोलेंगे। उन्होंने सवाल किया कि पीएम बता दें कि जो बेरोजगार बाप बन गए हैं, उनके लिए भी कोई आसन हो तो भारतीय जनता पार्टी बता दे। जिससे वह वही आसन करना शुरू कर दें।

वहीं, योगी सरकार में नाम बदलने की परंपरा पर कटाक्ष करते हुए अखिलेश ने कहा कि नाम बदलने से कुछ नहीं होता। उन्होने योगी के मुख्यमंत्री पद से हटाए जाने की चर्चा पर कहा कि जनता बीजेपी को ही हटाना चाहती है।

लखनऊ। दिल्ली विधानसभा चुनाव के नतीजे आने से पहले जारी हुए एक्ज़िट पोल के बाद राजनीतिक महकमे में हलचल शुरू हो गयी है और पार्टी नेताओं के बयान आने शुरू हो गए हैं। इस बीच समाजवादी पार्टी(सपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष और यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव का बयान सामने आया है। अखिलेश ने कहा, "अरविंद केजरीवाल भारी अतंर से सरकार में वापसी कर रहे हैं। दिल्ली की जनता ने हिंदू मुसलमान के नाम पर नहीं बल्कि विकास के नाम पर वोट किया है। अब जहां-जहां बीजेपी चुनाव लड़ेगी, वहां-वहां हारेगी।" उत्तर प्रदेश के बाराबंकी जिले में एक कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे अखिलेश ने कहा कि दिल्ली की जनता ने हिंदू-मुसलमान और पाकिस्तान के नाम पर वोट नहीं बल्कि विकास के नाम पर वोट किया है। अब जहां-जहां चुनाव होंगे बीजेपी ऐतिहासिक हार हारती जाएगी। अखिलेश यादव ने कहा कि कई राज्यों में मुंह की खा चुकी भारतीय जनता पार्टी दिल्ली के चुनाव में खाता भी नहीं खोल पाएगी और आम आदमी पार्टी के अरविंद केजरीवाल की एक बार फिर से मुख्यमंत्री के तौर पर ताजपोशी होगी। अखिलेश यादव ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तंज़ कसते हुए कहा कि सूर्य नमस्कार की बात करने वाले बेरोजगारी के मुद्दे पर कब बोलेंगे। उन्होंने सवाल किया कि पीएम बता दें कि जो बेरोजगार बाप बन गए हैं, उनके लिए भी कोई आसन हो तो भारतीय जनता पार्टी बता दे। जिससे वह वही आसन करना शुरू कर दें। वहीं, योगी सरकार में नाम बदलने की परंपरा पर कटाक्ष करते हुए अखिलेश ने कहा कि नाम बदलने से कुछ नहीं होता। उन्होने योगी के मुख्यमंत्री पद से हटाए जाने की चर्चा पर कहा कि जनता बीजेपी को ही हटाना चाहती है।