दिल्ली विधानसभा चुनाव: लिस्ट फाइनल होने से पहले ही कांग्रेस में विरोध शुरू, सोनिया के घर के बाहर प्रदर्शन

Congress
दिल्ली विधानसभा चुनाव: लिस्ट फाइनल होने से पहले ही कांग्रेस में विरोध शुरू, सोनिया के घर के बाहर प्रदर्शन

नई दिल्ली। दिल्ली में विधानसभा चुनाव का बिगुल बज गया है। सभी दलों में टिकट को लेकर मारा मारी मची है। इस बीच कांग्रेस में विरोध के स्वर मुखर होने लगे हैं। शनिवार को पटेल नगर और करावल नगर विधानसभा क्षेत्र के कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने टिकट वितरण को लेकर कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी के आवास के बाहर प्रदर्शन किया। बता दें कि कांग्रेस ने अभी अपने उम्मीदवारों का ऐलान नहीं किया है।

Delhi Assembly Elections Protests In Congress Start Even Before The List Is Final Protest Outside Sonias House :

दिल्ली विधानसभा चुनाव को लेकर सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी ने सभी 70 सीटों पर अपने प्रत्याशियों के नाम की घोषणा कर दी है, वहीं विपक्षी भाजपा ने भी शुक्रवार को 57 उम्मीदवारों के नाम की पहली लिस्ट जारी कर दी है। विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस प्रत्याशियों की सूची आज शनिवार को जारी हो सकती है। पार्टी सूत्रों के मुताबिक केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक के बाद उम्मीदवारों के नामों की घोषणा हो सकती है। चुनाव के लिए नामांकन शुरू हुए चार दिन हो चुके हैं।

दिल्ली की सत्ता में काबिज आम आदमी पार्टी ने सबसे पहले अपने उम्मीदवारों की सूची जारी की थी। शुक्रवार को भाजपा ने भी अधिकांश सीटों पर अपने उम्मीदवारों के नामों की घोषणा कर दी है। वहीं, कांग्रेस में उम्मीदवारों के चयन पर विचार-विमर्श का दौर अंतिम चरण में है। पार्टी सूत्रों की मानें तो शनिवार (18 जनवरी) को पार्टी की केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक होनी है।

गौरतलब है कि 2015 के विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी को 70 में से 67 सीटों पर जीत हासिल हुई थी। वहीं भाजपा को तीन सीटें मिली थीं, जबकि कांग्रेस अपना खाता तक नहीं खोल सकी थी। इसके अलावा 2019 के लोकसभा चुनाव में में दिल्ली की सभी 7 लोकसभा सीटों पर भाजपा को जीत हासिल हुई थी।

दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020 के लिए बिगुल बज गया है। दिल्ली में सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी (आप) के साथ ही भाजपा और कांग्रेस भी सत्ता प्राप्ति के लिए संघर्ष कर रही हैं। दिल्ली विधानसभा की सभी 70 सीटों के लिए 8 फरवरी को वोट डाले जाएंगे और मतगणना 11 फरवरी को होगी।

नई दिल्ली। दिल्ली में विधानसभा चुनाव का बिगुल बज गया है। सभी दलों में टिकट को लेकर मारा मारी मची है। इस बीच कांग्रेस में विरोध के स्वर मुखर होने लगे हैं। शनिवार को पटेल नगर और करावल नगर विधानसभा क्षेत्र के कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने टिकट वितरण को लेकर कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी के आवास के बाहर प्रदर्शन किया। बता दें कि कांग्रेस ने अभी अपने उम्मीदवारों का ऐलान नहीं किया है। दिल्ली विधानसभा चुनाव को लेकर सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी ने सभी 70 सीटों पर अपने प्रत्याशियों के नाम की घोषणा कर दी है, वहीं विपक्षी भाजपा ने भी शुक्रवार को 57 उम्मीदवारों के नाम की पहली लिस्ट जारी कर दी है। विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस प्रत्याशियों की सूची आज शनिवार को जारी हो सकती है। पार्टी सूत्रों के मुताबिक केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक के बाद उम्मीदवारों के नामों की घोषणा हो सकती है। चुनाव के लिए नामांकन शुरू हुए चार दिन हो चुके हैं। दिल्ली की सत्ता में काबिज आम आदमी पार्टी ने सबसे पहले अपने उम्मीदवारों की सूची जारी की थी। शुक्रवार को भाजपा ने भी अधिकांश सीटों पर अपने उम्मीदवारों के नामों की घोषणा कर दी है। वहीं, कांग्रेस में उम्मीदवारों के चयन पर विचार-विमर्श का दौर अंतिम चरण में है। पार्टी सूत्रों की मानें तो शनिवार (18 जनवरी) को पार्टी की केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक होनी है। गौरतलब है कि 2015 के विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी को 70 में से 67 सीटों पर जीत हासिल हुई थी। वहीं भाजपा को तीन सीटें मिली थीं, जबकि कांग्रेस अपना खाता तक नहीं खोल सकी थी। इसके अलावा 2019 के लोकसभा चुनाव में में दिल्ली की सभी 7 लोकसभा सीटों पर भाजपा को जीत हासिल हुई थी। दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020 के लिए बिगुल बज गया है। दिल्ली में सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी (आप) के साथ ही भाजपा और कांग्रेस भी सत्ता प्राप्ति के लिए संघर्ष कर रही हैं। दिल्ली विधानसभा की सभी 70 सीटों के लिए 8 फरवरी को वोट डाले जाएंगे और मतगणना 11 फरवरी को होगी।