मुख्य सचिव के साथ हाथापाई मामला: AAP विधायक प्रकाश जरवाल को मिली जमानत

मुख्य सचिव के साथ हाथापाई मामला: AAP विधायक प्रकाश जरवाल को मिली जमानत
मुख्य सचिव के साथ हाथापाई मामला: AAP विधायक प्रकाश जरवाल को मिली जमानत

नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्य सचिव अंशु प्रकाश के साथ हुई कथित बदसलूकी और मारपीट के आरोपी आप विधायक प्रकाश जारवाल को शुक्रवार को दिल्ली हाईकोर्ट ने जमानत दे दी। इससे पहले भी जारवाल ने जमानत की अर्जी दी थी जिसे खारिज कर दिया गया था। प्रकाश जारवाल को 22 फरवरी को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजा गया था।

Delhi Chief Secretary Assault Case Aap Mla Prakash Jarwal Bail High Court :

न्यायाधीश मुक्ता गुप्ता ने जारवाल को जमानत देते हुए कहा, “भविष्य में किसी अप्रत्याशित घटना से बचने के लिए तथा पारदर्शिता बरकरार रखने के लिए, दिल्ली सरकार को यह सलाह दी जाती है कि विधायकों और नौकरशाहों की बैठकों की वीडियोग्राफी कराई जाए।”

अदालत ने जारवाल को 50,000 रुपये का निजी बांड और इसी रकम की दो और जमानत भरने का आदेश दिया।अदालत ने हालांकि जमानत के साथ यह शर्त लगाई गई है कि जारवाल खुद या किसी अन्य के जरिए शिकायकर्ता को परेशान करने या धमकी देने जैसी कार्रवाई करते हैं तो पुलिस को जमानत रद्द करने का अधिकार होगा।

मुख्य सचिव ने 19 फरवरी को यह आरोप लगाया था कि आप विधायक जारवाल और अमानतुल्ला खान ने मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल की उपस्थिति में मुख्यमंत्री आवास पर उन्हें पीटा था, जहां शीर्ष नौकरशाह को आपातकालीन बैठक के लिए तलब किया गया था।

नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्य सचिव अंशु प्रकाश के साथ हुई कथित बदसलूकी और मारपीट के आरोपी आप विधायक प्रकाश जारवाल को शुक्रवार को दिल्ली हाईकोर्ट ने जमानत दे दी। इससे पहले भी जारवाल ने जमानत की अर्जी दी थी जिसे खारिज कर दिया गया था। प्रकाश जारवाल को 22 फरवरी को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजा गया था।न्यायाधीश मुक्ता गुप्ता ने जारवाल को जमानत देते हुए कहा, "भविष्य में किसी अप्रत्याशित घटना से बचने के लिए तथा पारदर्शिता बरकरार रखने के लिए, दिल्ली सरकार को यह सलाह दी जाती है कि विधायकों और नौकरशाहों की बैठकों की वीडियोग्राफी कराई जाए।"अदालत ने जारवाल को 50,000 रुपये का निजी बांड और इसी रकम की दो और जमानत भरने का आदेश दिया।अदालत ने हालांकि जमानत के साथ यह शर्त लगाई गई है कि जारवाल खुद या किसी अन्य के जरिए शिकायकर्ता को परेशान करने या धमकी देने जैसी कार्रवाई करते हैं तो पुलिस को जमानत रद्द करने का अधिकार होगा।मुख्य सचिव ने 19 फरवरी को यह आरोप लगाया था कि आप विधायक जारवाल और अमानतुल्ला खान ने मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल की उपस्थिति में मुख्यमंत्री आवास पर उन्हें पीटा था, जहां शीर्ष नौकरशाह को आपातकालीन बैठक के लिए तलब किया गया था।