चुनाव से पहले CM केजरीवाल का बड़ा ऐलान, 200 यूनिट तक बिजली मिलेगी मुफ्त

arvinda
चुनाव से पहले सीएम केजरीवाल का बड़ा ऐलान, 200 यूनिट तक नहीं आएगा बिल

नई दिल्ली। राजधानी के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्लीवासियों को विधानसभा चुनाव से पहले बड़ा तोहफा दिया है। उन्होंने बताया कि अगर कोई 200 यूनिट तक बिजली इस्तेमाल करता है तो उसे बिजली बिल देने की जरूरत नहीं है। वहीं 201 यूनिट होने पर पूरा बिल देना होगा। 201 से 400 यूनिट तक आधी सब्सिडी मिलेगी। इस छूट के बाद सब्सिडी पर करीब 1800 करोड़ रुपये का खर्च बढ़ जाएगा।

Delhi Cm Arvind Kejriwal 200 Units Electricity Bill Free :

इस मौके पर केजरीवाल ने कहा, ‘आज से साढ़े 4 साल पहले जिम्मेदारी संभाली थी। बिजली के क्षेत्र में गड़बड़ियों पर मार्च 2013 से आंदोलन शुरू किया। तब 15 दिनों का अनशन शुरू किया। 150-200 यूनिट के हजारों रुपए का बिल आता था। लोग परेशान होते थे कि बच्चों को पढ़ाएं या बिल भरें। बिजली कंपनियों की फाइनेंसिशियल हालत खराब थी। उनके पास कंपनी चलाने को पैसे नहीं थे। कहा जाता था कि पैसे नहीं चुकाए तो कल ब्लैक आउट हो जाएगा।’

पहले की सरकारों पर हमला बोलते हुए केजरीवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि पहले हर साल बिजली बिल बढ़ाए जाते थे। उन्होंने कहा कि अब आप सरकार में पावर कट कम हुए हैं, जबकि पहले जमकर पावर कट लगाए जाते थे, जिसकी वजह से हर साल इन्वर्टर और बैटरी खरीदने पड़ते थे।

नई दिल्ली। राजधानी के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्लीवासियों को विधानसभा चुनाव से पहले बड़ा तोहफा दिया है। उन्होंने बताया कि अगर कोई 200 यूनिट तक बिजली इस्तेमाल करता है तो उसे बिजली बिल देने की जरूरत नहीं है। वहीं 201 यूनिट होने पर पूरा बिल देना होगा। 201 से 400 यूनिट तक आधी सब्सिडी मिलेगी। इस छूट के बाद सब्सिडी पर करीब 1800 करोड़ रुपये का खर्च बढ़ जाएगा। इस मौके पर केजरीवाल ने कहा, 'आज से साढ़े 4 साल पहले जिम्मेदारी संभाली थी। बिजली के क्षेत्र में गड़बड़ियों पर मार्च 2013 से आंदोलन शुरू किया। तब 15 दिनों का अनशन शुरू किया। 150-200 यूनिट के हजारों रुपए का बिल आता था। लोग परेशान होते थे कि बच्चों को पढ़ाएं या बिल भरें। बिजली कंपनियों की फाइनेंसिशियल हालत खराब थी। उनके पास कंपनी चलाने को पैसे नहीं थे। कहा जाता था कि पैसे नहीं चुकाए तो कल ब्लैक आउट हो जाएगा।' पहले की सरकारों पर हमला बोलते हुए केजरीवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि पहले हर साल बिजली बिल बढ़ाए जाते थे। उन्होंने कहा कि अब आप सरकार में पावर कट कम हुए हैं, जबकि पहले जमकर पावर कट लगाए जाते थे, जिसकी वजह से हर साल इन्वर्टर और बैटरी खरीदने पड़ते थे।