1. हिन्दी समाचार
  2. 30 अप्रैल तक बढ़ेेेेेगा लॉकडाउन, PM की चर्चा के बाद दिल्ली CM अरविंद केजरीवाल ने दिए संकेत

30 अप्रैल तक बढ़ेेेेेगा लॉकडाउन, PM की चर्चा के बाद दिल्ली CM अरविंद केजरीवाल ने दिए संकेत

Delhi Cm Arvind Kejriwal Signs After Lockdown Will Increase Till 30th April

नई दिल्ली। भारत में कोरोना का कहर लगातार बढ़ता चला जा रहा है। इसी कोरोना संकट को देखते हुए 24 मार्च को देश में 21 दिनों के लॉकडाउन का ऐलान किया गया था। 25 मार्च से शुरू हुए देशव्यापी लॉकडाउन का आखिरी दिन 14 अप्रैल है। ऐसे में कई राज्यों ने पीएम से देश में लॉकडाउन बढ़ाने की मांग की थी, जिसके बाद आज पीएम ने सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों से वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिए बातचीत की। इस बातचीत के तुरंत बाद दिल्ली के सीएम केजरीवाल ने ट्वीट कर जानकारी दी कि मोदी जी का लॉकडाउन बढ़ाने का अच्छा फैसला है, इससे ये साफ हो गया कि आने वाले 30 अप्रैल तक अब पूरे देश में लॉकडाउन होना लगभग तय है।

पढ़ें :- इंग्लैंड के खिलाफ होने वाले टेस्ट सीरीज के लिए भारतीय टीम का ऐलान, इनको मिली जगह

 

पढ़ें :- कुर्की के आदेश के बाद नसीमुद्दीन और रामअचल राजभर ने कोर्ट में किया सरेंडर, भेजे गए जेल

देश में कोरोना वायरस के संक्रमित मरीजों में हर रोज इजाफा देखने को मिल रहा है। अब तक देश में 7000 से ज्यादा लोग कोरोना वायरस की चपेट में आ चुके हैं। जब पंजाब और उड़ीसा सरकार ने 30 अप्रैल तक लॉकडाउन बढ़ा दिया तो आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये बैठक की। इस बैठक में
बैठक में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे, उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत, मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान और पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह समेत कई राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने लॉकडाउन बढ़ाने के लिए सुझाव दिए हैं। केजरीवाल ने राष्ट्रीय स्तर पर लॉकडाउन आगे जारी रखने की मांग की थी। इसके अलावा पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने केंद्र सरकार से आर्थिक मदद मांगी है।

इस बैठक में पीएम मोदी ने कोरोना वायरस के मौजूदा हालात को लेकर चर्चा की है। साथ ही कोरोना वायरस से निपटने के लिए राज्यों से सुझाव भी मांगे। पीएम मोदी ने मुख्यमंत्रियों से कहा कि वो आप सभी के लिए हर वक्त उपलब्ध हैं। पीएम मोदी ने इस दौरान कहा कि केंद्र और राज्य सरकारें कंधे से कंधा मिलाकर चलेंगी और निश्चित रणनीति के तहत चलेंगी, तब हम देश और देशवासियों को कोरोना संक्रमण से होने वाले नुकसान से बचा सकेंगे। इस बैठक में स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोरोना वायरस को लेकर प्रेजेंटेशन भी दी।

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बुधवार को हुई सर्वदलीय बैठक में लॉकडाउन बढ़ाए जाने के संकेत दे चुके हैं। सूत्रों के मुताबिक, पीएम मोदी ने कहा था कि कोरोना वायरस के खिलाफ लंबी लड़ाई है। सभी की जिंदगी बचाना सरकार की प्राथमिकता है। प्रधानमंत्री ने कहा था कि देश में स्थिति ‘सामाजिक आपातकाल’ के समान है। इसके लिए कड़े फैसलों की जरूरत है और हमें निरंतर सतर्क रहना चाहिए।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...