1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. दिल्ली सीएम Arvind Kejriwal ने बताया किस दिन मनीष सिसोदिया होंगे गिरफ्तार?

दिल्ली सीएम Arvind Kejriwal ने बताया किस दिन मनीष सिसोदिया होंगे गिरफ्तार?

दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल (Delhi CM Arvind Kejriwal) ने मंगलवार को दावा किया है उप मुख्यमंत्री सिसोदिया को भले (Deputy Chief Minister Sisodia) ही सीबीआई (CBI)ने अनौपचारिक क्लीन चिट दी है, लेकिन राजनीतिक दबाव के तहत उन्हें हफ्ते-दस दिन के अंदर गिरफ्तार कर लिया जाएगा। इसके साथ ही अन्ना हजारे (Anna Hazare) के तरफ लिखे पत्र को लेकर कहा कि उन्होंने भाजपा अन्ना हजारे का इस्तेमाल कर रही है, क्योंकि लोग उनके शराब घोटाले के आरोपों पर विश्वास नहीं करते।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल (Delhi CM Arvind Kejriwal) ने मंगलवार को दावा किया है उप मुख्यमंत्री सिसोदिया को भले (Deputy Chief Minister Sisodia) ही सीबीआई (CBI)ने अनौपचारिक क्लीन चिट दी है, लेकिन राजनीतिक दबाव के तहत उन्हें हफ्ते-दस दिन के अंदर गिरफ्तार कर लिया जाएगा। इसके साथ ही अन्ना हजारे (Anna Hazare) के तरफ लिखे पत्र को लेकर कहा कि उन्होंने भाजपा अन्ना हजारे का इस्तेमाल कर रही है, क्योंकि लोग उनके शराब घोटाले (Alcohol Scam) के आरोपों पर विश्वास नहीं करते।

पढ़ें :- CBI का चाइल्ड पोर्न के खिलाफ 'ऑपरेशन मेघचक्र', 20 राज्यों में 56 ठिकानों पर बड़ी कार्रवाई

दिल्ली के उप राज्यपाल वी के सक्सेना (Delhi Lieutenant Governor VK Saxena) ने पिछले महीने दिल्ली की आबकारी नीति 2021-22 (Delhi’s Excise Policy 2021-22) के क्रियान्वयन में कथित अनियमितताओं के मामले में सीबीआई (CBI) जांच की सिफारिश की थी। हजारे ने महाराष्ट्र के अहमदनगर जिले (Ahmednagar District) में अपने गांव रालेगण सिद्धि (Village Ralegan Siddhi) में पूरी तरह शराब प्रतिबंध का हवाला देते हुए अपने पूर्व सहयोगी केजरीवाल को उनकी पुस्तक ‘स्वराज’ के बारे में याद दिलाया जिसमें शराब पर पाबंदी की वकालत की गयी है।

सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे (Social Activist Anna Hazare) ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Delhi Chief Minister Arvind Kejriwal) को पत्र लिखकर उनकी सरकार की नै आबकारी नीति की निंदा की है। उन्होंने लिखा कि मुख्यमंत्री ‘सत्ता के नशे में चूर लगते हैं’। हजारे ने यह भी कहा है कि एक ऐतिहासिक आंदोलन को नुकसान पहुंचाने के बाद जन्मी पार्टी अब दूसरे दलों के रास्ते पर है, जो पीड़ादायी है। हजारे ने कहा कि नयी नीति से शराब की बिक्री और खपत को बढ़ावा मिलेगा तथा भ्रष्टाचार भी बढ़ेगा।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...