दिल्ली चुनाव: BSP अकेले लड़ेगी सभी सीटों पर चुनाव, मायावती करेंगी 3 रैलियां

Mayawati
बसपा चीफ मायावती बोलीं कोरोना संकट में राज्यों की सीमा बंद करना गलत

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री और बीएसपी प्रमुख मायावती दिल्ली में भी अपनी पार्टी की ताकत आजमाने जा रही हैं। इस बार दिल्ली में बीएसपी ने किसी के साथ भी घठबंधन नही किया है और पार्टी दिल्ली की सभी विधानसभा सीटों पर प्रत्याशी उतारने जा रही है। वहीं मायावती इस दौरान तीन रैलियां भी करेंगी।

Delhi Elections Bsp Will Contest Alone On All Seats Mayawati Will Do 3 Rallies :

बताया जा रहा है कि मायावती की पहली रैली नयी दिल्ली स्थित तालकटोरा स्टेडियम में तीन फ़रवरी को आयोजित होगी। पिछले एक सप्ताह से बीएसपी दिल्ली की चुनावी रणनीति बना रही है और ये सब मायावती की निगरानी में ही हो रहा था। बताया जा रहा है कि बीएसपी उम्मीदवारों के नाम तय करने के बाद सोमवार को अभियान की रूपरेखा तय की गयी। बसपा के दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मण सिंह और पार्टी सांसदों को विधानसभा चुनाव अभियान की कमान सौंपी गई है।

बताया गया कि तीन फ़रवरी की रैली के बाद एक रैली अनधिकृत कालोनी क्षेत्र और एक रैली दलित मतदाताओं की बहुलता वाले किसी विधानसभा क्षेत्र में होगी। हालांकि अभी तक इन रैलियों के स्थान के बारे में कोई जानकारी नही दी गयी है। आपको बता दें कि हाल ही में बीएसपी में शामिल हुए आप के विधायक नारायण दत्त शर्मा को पार्टी ने दक्षिणी दिल्ली के बदरपुर विधानसभा क्षेत्र से उम्मीदवार बनाया है।

बताया जा रहा है ​कि बदरपुर सीट में ग्रामीण क्षेत्र ज्यादा हैं, ऐसे में मायावती यहां एक रैली कर सकती हैं। इस सीट पर 2008 के विधानसभा चुनाव में बीएसपी के उम्मीदवार राम सिंह नेता जी ने जीत दर्ज की थी। ग़ौरतलब है कि दिल्ली की 70 सदस्यीय विधानसभा के लिए आठ फ़रवरी को मतदान और 11 फ़रवरी को मतगणना होगी। विधानसभा की 12 सीटें अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित हैं। बीएसपी पहले ही 42 सीटों के उम्मीदवारों के नाम घोषित कर चुकी है। हालांकि बीएसपी को दिल्ली में बड़ी ताकत नहीं माना जाता लेकिन बीते कुछ चुनावों में उसका वोट बैेंक बढ़ा था। ऐसे में बीएसपी कई सीटों पर खेल बिगाड़ भी सकती है।

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री और बीएसपी प्रमुख मायावती दिल्ली में भी अपनी पार्टी की ताकत आजमाने जा रही हैं। इस बार दिल्ली में बीएसपी ने किसी के साथ भी घठबंधन नही किया है और पार्टी दिल्ली की सभी विधानसभा सीटों पर प्रत्याशी उतारने जा रही है। वहीं मायावती इस दौरान तीन रैलियां भी करेंगी। बताया जा रहा है कि मायावती की पहली रैली नयी दिल्ली स्थित तालकटोरा स्टेडियम में तीन फ़रवरी को आयोजित होगी। पिछले एक सप्ताह से बीएसपी दिल्ली की चुनावी रणनीति बना रही है और ये सब मायावती की निगरानी में ही हो रहा था। बताया जा रहा है कि बीएसपी उम्मीदवारों के नाम तय करने के बाद सोमवार को अभियान की रूपरेखा तय की गयी। बसपा के दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मण सिंह और पार्टी सांसदों को विधानसभा चुनाव अभियान की कमान सौंपी गई है। बताया गया कि तीन फ़रवरी की रैली के बाद एक रैली अनधिकृत कालोनी क्षेत्र और एक रैली दलित मतदाताओं की बहुलता वाले किसी विधानसभा क्षेत्र में होगी। हालांकि अभी तक इन रैलियों के स्थान के बारे में कोई जानकारी नही दी गयी है। आपको बता दें कि हाल ही में बीएसपी में शामिल हुए आप के विधायक नारायण दत्त शर्मा को पार्टी ने दक्षिणी दिल्ली के बदरपुर विधानसभा क्षेत्र से उम्मीदवार बनाया है। बताया जा रहा है ​कि बदरपुर सीट में ग्रामीण क्षेत्र ज्यादा हैं, ऐसे में मायावती यहां एक रैली कर सकती हैं। इस सीट पर 2008 के विधानसभा चुनाव में बीएसपी के उम्मीदवार राम सिंह नेता जी ने जीत दर्ज की थी। ग़ौरतलब है कि दिल्ली की 70 सदस्यीय विधानसभा के लिए आठ फ़रवरी को मतदान और 11 फ़रवरी को मतगणना होगी। विधानसभा की 12 सीटें अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित हैं। बीएसपी पहले ही 42 सीटों के उम्मीदवारों के नाम घोषित कर चुकी है। हालांकि बीएसपी को दिल्ली में बड़ी ताकत नहीं माना जाता लेकिन बीते कुछ चुनावों में उसका वोट बैेंक बढ़ा था। ऐसे में बीएसपी कई सीटों पर खेल बिगाड़ भी सकती है।