दिल्ली सरकार का बड़ा फैसला, 15 साल पुरानी डीजल गाड़ियों का पंजीकरण रद्द, पटाखों पर लगेगा बैन

Delhi Government Begins Deregistration Of 15 Year Old Diesel Vehicles

नई दिल्ली। दिल्ली के उप राज्यपाल नजीब जंग और सीएम अरविन्द केजरीवाल ने साथ मिलकर दिल्ली के तमाम विभागों और एजेंसियों के अफसरों के साथ उच्च स्तरीय मीटिंग की। इस मीटिंग में दिवाली के बाद से राजधानी दिल्ली में वायु प्रदूषण के खतरनाक स्तर को बढ़ता देख सख्त कदम उठाने की बात हुई है। मीटिंग में लिए गए निर्णय में उन्होंन एजेंसियों को निर्देश दिया है कि वायु प्रदूषण कम करने के लिए आवश्यक कदम जल्द उठाए जाएं। साथ ही दिल्ली पुलिस एवं नगर निगम एक्शन प्लान सख्ती से लागू किए जाएं। 15 साल पुराने डीजल वाहनों का पंजीकरण समाप्त करने का अभियान सोमवार से शुरू कर दिया गया। ये फैसला लेने में सरकार लंबे समय से हिचक रही थी।




दिल्ली नगर निगम को भलस्वा में आग पर काबू के लिए सभी उपाय करने को कहा गया है। सोमवार से 14 नवंबर तक सभी निर्माण या तोड़फोड़ की गतिविधियों पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। उन्होंन एजंसियों को निर्देश दिया है कि वायु प्रदूषण कम के लिए आवश्यक कदम जल्द उठाए जाएं। दिल्ली पुलिस एवं नगर निगम एक्शन प्लान सख्ती से लागू किए जाएं।

एक और महत्वपूर्ण फैसले में कहा गया है कि अब दिल्ली में पटाखों पर प्रतिबंध लगाया जाएगा। पटाखा चलाने की छूट सिर्फ त्योंहारों पर होगी। इसके अलावा दिल्ली में कहीं भी पटाखा या आतिशबाजी करना प्रतिबंधित होगा। बैठक में मौजूद दिल्ली पुलिस कमिश्नर को भी कहा गया है कि दिल्ली में एंट्री करने वाले ओवर लोडेड ट्रकों पर सख्ती की जाए और उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए। दिल्ली के ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंट से कहा गया है कि वाहनों के पीयूसी सर्टिफिकेट की जांच करे और उल्लंघन करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए।

रिपोर्ट: आस्था सिंह




नई दिल्ली। दिल्ली के उप राज्यपाल नजीब जंग और सीएम अरविन्द केजरीवाल ने साथ मिलकर दिल्ली के तमाम विभागों और एजेंसियों के अफसरों के साथ उच्च स्तरीय मीटिंग की। इस मीटिंग में दिवाली के बाद से राजधानी दिल्ली में वायु प्रदूषण के खतरनाक स्तर को बढ़ता देख सख्त कदम उठाने की बात हुई है। मीटिंग में लिए गए निर्णय में उन्होंन एजेंसियों को निर्देश दिया है कि वायु प्रदूषण कम करने के लिए आवश्यक कदम जल्द उठाए जाएं। साथ ही…