दिल्ली सरकार ने कोरोना को लेकर लिया बड़ा फैसला, सभी विश्वविद्यालय की परीक्षाएं रद्द

manish
दिल्ली सरकार ने कोरोना को लेकर लिया बड़ा फैसला, सभी विश्वविद्यालय की परीक्षाएं रद्द

नई दिल्ली। दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार ने कोरोना के बढ़ते मामले को लेकर बड़ा फैसला लिया है। दिल्ली सरकार के अंतर्गत आने वाले सभी विश्वविद्यालयों की परीक्षाएं रद्द करने की घो​षणा की है। डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने बताया कि इमें अंतिम वर्ष की परीक्षाएं भी शामिल हैं। छात्रों को डिग्री उनके पूर्व वर्ष के नंबरों के आधार पर प्रदान की जाएगी।

Delhi Government Takes A Big Decision Regarding Corona Cancels All University Exams :

डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने बताया कि सभी विश्वविद्यालयों को फाइनल परीक्षा रद्द कर छात्रों के मूल्यांकन का कोई पैमाना तैयार कर डिग्री जल्द से जल्द देने के लिए कहा गया है। कोरोना की वजह से परीक्षा लेना और डिग्री न देना अन्याय होगा। ये निर्णय राज्य विश्वविद्यालय के लिए लिया गया है। उन्होंने बताया कि सीएम अरविंद केजरीवाल ने केंद्र सरकार को भी पत्र लिखकर सभी विश्वविद्यालयों की परीक्षा रद्द करने का निवेदन किया है।

दिल्ली सरकार के अंतर्गत आने वाले विश्वविद्यालय हैं- आईपी यूनिवर्सिटी, आंबेडकर यूनिवर्सिटी, डीटीयू व अन्य इन सभी में परीक्षाएं नहीं होंगी। हालांकि बात अगर दिल्ली विश्वविद्यालय की करें तो इसके अंतर्गत आने वाले दिल्ली सरकार के कॉलेजों के बारे में फैसला केंद्र सरकार को लेना है।

मालूम हो कि डीयू के 12 ऐसे विश्वविद्यालय हैं जिन्हें दिल्ली सरकार 100 प्रतिशत फंड करती है और 16 ऐसे विद्यालय हैं जिन्हें दिल्ली सरकार 5 प्रतिशत फंड करती है। हालांकि डीयू केंद्रीय विश्वविद्यालय है ऐसे में इन सभी के लिए केंद्र को ही फैसला लेना है।

 

नई दिल्ली। दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार ने कोरोना के बढ़ते मामले को लेकर बड़ा फैसला लिया है। दिल्ली सरकार के अंतर्गत आने वाले सभी विश्वविद्यालयों की परीक्षाएं रद्द करने की घो​षणा की है। डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने बताया कि इमें अंतिम वर्ष की परीक्षाएं भी शामिल हैं। छात्रों को डिग्री उनके पूर्व वर्ष के नंबरों के आधार पर प्रदान की जाएगी। डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने बताया कि सभी विश्वविद्यालयों को फाइनल परीक्षा रद्द कर छात्रों के मूल्यांकन का कोई पैमाना तैयार कर डिग्री जल्द से जल्द देने के लिए कहा गया है। कोरोना की वजह से परीक्षा लेना और डिग्री न देना अन्याय होगा। ये निर्णय राज्य विश्वविद्यालय के लिए लिया गया है। उन्होंने बताया कि सीएम अरविंद केजरीवाल ने केंद्र सरकार को भी पत्र लिखकर सभी विश्वविद्यालयों की परीक्षा रद्द करने का निवेदन किया है। दिल्ली सरकार के अंतर्गत आने वाले विश्वविद्यालय हैं- आईपी यूनिवर्सिटी, आंबेडकर यूनिवर्सिटी, डीटीयू व अन्य इन सभी में परीक्षाएं नहीं होंगी। हालांकि बात अगर दिल्ली विश्वविद्यालय की करें तो इसके अंतर्गत आने वाले दिल्ली सरकार के कॉलेजों के बारे में फैसला केंद्र सरकार को लेना है। मालूम हो कि डीयू के 12 ऐसे विश्वविद्यालय हैं जिन्हें दिल्ली सरकार 100 प्रतिशत फंड करती है और 16 ऐसे विद्यालय हैं जिन्हें दिल्ली सरकार 5 प्रतिशत फंड करती है। हालांकि डीयू केंद्रीय विश्वविद्यालय है ऐसे में इन सभी के लिए केंद्र को ही फैसला लेना है।