1. हिन्दी समाचार
  2. खबरें
  3. कोरोना संकट को लेकर सील किया गया दिल्ली-हरियाणा बॉर्डर, आरोग्य सेतु ऐप से ही मिलेगी एंट्री

कोरोना संकट को लेकर सील किया गया दिल्ली-हरियाणा बॉर्डर, आरोग्य सेतु ऐप से ही मिलेगी एंट्री

नई दिल्ली। दिल्ली से सटी सीमाओं को लेकर हरियाणा सरकार की ओर से सख्त निर्देश जारी किया गया है। जानकारी के मुताबिक जो लोग गुरुग्राम या दिल्ली में काम के लिए आते-जाते हैं, उनके प्रबंधन को उनके रहने की गुरुग्राम में ही व्यवस्था करनी होगी। ऐसे में गृह मंत्रालय के आदेश अनुसार दी गई छूट के तहत पहले से जिन्हें अनुमति दी गई है, वे सीमा पार आ जा सकेंगे। इनके अलावा, बहुत ही अनिवार्य होने पर सीमा पार आने-जाने के लिए जिलाधीश कार्यालय से अनुमति लेनी होगी।

दिल्ली-हरियाणा बॉर्डर सील है ऐसे में किसी को भी बिना पास अंदर नहीं जाने दिया जा रहा है। हालांकि गुरुवार (कल) दोपहर 12 बजे से आज सुबह साढ़े 9 बजे तक डॉक्टर, सरकारी कर्मचारी को फरीदाबाद आने जाने की छूट दी गयी थी क्योंकि अचानक बॉर्डर सील होने से सरकारी कर्मचारी अपनी जरूरत का सामान नहीं ले जा पाए थे। लिहाजा उनको अपने घरों से रोजमर्रा में इस्तेमाल करने वाला सामान ले जाने की छूट दी गयी थी. 9.30 बजे के बाद एक बार फिर डॉक्टर, सरकारी कर्मचारी के लिए बॉर्डर सील हो गया। जिनके पास इंटर स्टेट पास है वो केवल फरीदाबाद आ जा सकते हैं साथ ही दूध, सब्जी, गैस इत्यादि जरूरत के सामान वाली गाड़ियों को आने जाने के लिए किसी पास की जरूरत नहीं है।

बॉर्डर सील होने से साउथ एमसीडी के कर्मचारी बॉर्डर पर ही फंस गए। ऐसे में माना जा रहा है कि एमसीडी से जुड़े काम काज प्रभावित हो सकते हैं। बता दें कि सेंट्रल जोन में दूसरे राज्य के 1303 कर्मचारी और 509 सफाई कर्मचारी भी शामिल हैं. वहीं साउथ जोन में करीब 400 कर्मचारी हैं. ज्यादातर कर्मचारी फरीदाबाद, गुरुग्राम, झज्जर, और बहादुरगढ़ जैसी जगहों से आते हैं.

वहीं सरकारी कार्यालयों के अधिकृत अधिकारी अथवा कर्मचारी, प्रधानमंत्री कार्यालय, केंद्रीय गृह मंत्रालय, वित्त, रक्षा, डाक विभाग, आपदा प्रबंधन और प्रारंभिक चेतावनी देने वाली एजेंसियां, राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र, भारतीय खाद्य निगम के अधिकारियों अथवा कर्मचारियों को अपना वैध पहचान पत्र दिखाने पर सीमा पार आवागमन की पहले की तरह अनुमति होगी. परंतु इन्हें आरोग्य सेतु ऐप अपने मोबाइल में इंस्टॉल करना होगा और उसका प्रयोग करना होगा.

प्रवेश करते समय सीमा पर इनकी थर्मल स्कैनिंग तथा रोग सूचक स्क्रीनिंग भी की जाएगी. इस दौरान जिन व्यक्तियों में संक्रमण के लक्षण दिखाई देंगे उनके लिए रैपिड टेस्टिंग सुविधा भी उपलब्ध रहेगी ताकि कोरोना वायरस के प्रसार को रोका जा सके. भारत सरकार या हरियाणा सरकार के अधिकृत अधिकारियों द्वारा जिन्हें पास जारी किए गए हैं, वे भी सीमा पार आ जा सकेंगे.

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...