नई दिल्ली: ट्रायल के दौरान दीवार तोड़ आगे पहुंची ड्राइवरलेस मेट्रो ट्रेन

metro

Delhi Metro Colloided With The Wall On Magenta Line During Trial

नई दिल्ली। दिल्ली मेट्रो की मजेन्टा लाइन (Magenta line) पर मंगलवार को ट्रायल के दौरान ड्राइवर लेस मेट्रो ट्रेन हादसे का शिकार हो गयी। अच्छी बात यह है कि हादसे में कोई जानमाल का नुकसान नहीं हुआ। हालांकि ड्राइवरलेस रूट होने की वजह से मेट्रो में कोई ड्राइवर नहीं था।

कालकाजी से बोटैनिकल गार्डन के बीच इस ट्रेन का 25 दिसंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा उदघाटन होना है। ट्रेन हादसे से उदघाटन पर कोई असर नहीं पड़ेगा उदघाटन निश्चित समय पर ही किया जाएगा।

बता दें कि इस लाइन पर पिछले 6-7 महीनों से ट्रेनों का ट्रायल किया जा रहा है, लेकिन मंगलवार को दोपहर करीब साढ़े तीन बजे ट्रायल के बाद जब ट्रेन को मेंटेनेंस के दौरान वाशिंग के लिए शेड में लाया गया, तो यहां ट्रेन स्लोप पर बने ट्रैक से आगे बढ़ गई और दीवार से जा टकराई।

मेट्रो के टकराने से दीवार टूट गई और मेट्रो दीवार के बाहर जा पहुंची। गनीमत यह रही कि इस घटना में कोई घायल नहीं हुआ है। डीएमआरसी ने अपने बयान में कहा कि यह हादसा मानवीय भूल का नतीजा है। वहीं दिल्ली के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने ट्वीट कर बताया कि कालकाजी-बोटेनिकल गार्डेन ट्रैक पर ट्रायल रन के दौरान चालक रहित मेट्रो ट्रेन के हादसे का शिकार होने पर डीएमआरसी से रिपोर्ट मांगी गई है। उन्होंने कहा कि यात्रियों की सुरक्षा से किसी भी तरह का समझौता नहीं किया जाएगा।

नई दिल्ली। दिल्ली मेट्रो की मजेन्टा लाइन (Magenta line) पर मंगलवार को ट्रायल के दौरान ड्राइवर लेस मेट्रो ट्रेन हादसे का शिकार हो गयी। अच्छी बात यह है कि हादसे में कोई जानमाल का नुकसान नहीं हुआ। हालांकि ड्राइवरलेस रूट होने की वजह से मेट्रो में कोई ड्राइवर नहीं था। कालकाजी से बोटैनिकल गार्डन के बीच इस ट्रेन का 25 दिसंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा उदघाटन होना है। ट्रेन हादसे से उदघाटन पर कोई असर नहीं पड़ेगा उदघाटन निश्चित…