1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. इस बार पद्म पुरस्कारों के लिए सिर्फ स्वास्थ्यकर्मियों के ही नाम भेजे जाएंगें : अरविंद केजरीवाल

इस बार पद्म पुरस्कारों के लिए सिर्फ स्वास्थ्यकर्मियों के ही नाम भेजे जाएंगें : अरविंद केजरीवाल

Delhi News दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind kejriwal) ने स्वतंत्रता दिवस (Independence day) पर दिए जाने वाले पद्म पुरस्कारों के लिए चयन प्रक्रिया में के बारे में बड़ा ऐलान किया है। अपनी योजना का खुलासा करते हुए बताया कि कोरोना महामारी (Corona Pandemic) के दौरान जान की बाजी लगाकर जनता की सेवा करने वाले कोरोना वॉरियर्स को विशेष सम्मान दिलाने में सहयोग करने की बात कही है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। Delhi News दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind kejriwal) ने स्वतंत्रता दिवस (Independence day) पर दिए जाने वाले पद्म पुरस्कारों के लिए चयन प्रक्रिया में के बारे में बड़ा ऐलान किया है। अपनी योजना का खुलासा करते हुए बताया कि कोरोना महामारी (Corona Pandemic) के दौरान जान की बाजी लगाकर जनता की सेवा करने वाले कोरोना वॉरियर्स को विशेष सम्मान दिलाने में सहयोग करने की बात कही है।

पढ़ें :- AAP की यूपी में सरकार बनी तो हर घर को 300 यूनिट बिजली फ्री : मनीष सिसोदिया
Jai Ho India App Panchang

केजरीवाल ने  यह ऐलान मंगलवार को वर्चुअली प्रेस कॉन्फ्रेंस में किया। इस दौरान बताया कि हर साल की तरह इस बार भी दिल्ली सरकार पद्म पुरस्कारों(Padma awards ) के लिए केंद्र को नाम भेजेगी ,लेकिन इस बार सिर्फ डॉक्टरों व स्वास्थ्यकर्मियों के होंगे। इसके लिए दिल्ली सरकार ने एक ईमेल आईडी (padmaawards.delhi@gmail.com) जारी की है। उन्होंने बताया जिस पर जनता खुद उन डॉक्टरों के नाम बता सकती है, जिन्होंने कोरोना के दौरान शानदार काम किया है।

पढ़ें :- दिल्ली में पटाखों का भंडारण, बिक्री व उपयोग पूर्णतया बैन : Arvind Kejriwal

केजरीवाल ने कहा कि बीते डेढ़ साल से हमारे स्वास्थ्यकर्मी जिस तरह से अथक परिश्रम कर रहे हैं। अपनी जान की बाजी लगाकर लोगों की जान बचाने वाले कोरोना वॉरिसर्य के हम सब आभारी रहेंगे। डॉक्टर, नर्स आदि अन्य सभी तरह के स्वास्थ्यकर्मी जिस तरह 24-24 घंटे काम कर रहे हैं। उसके लिए पूरी दुनिया उनका शुक्रिया अदा करती है।

केजरीवाल ने कहा कि देश दिल्ली की ही ऐसी सरकार है जिसने कोरोना से शहीद होने वाले फ्रंट लाइन वर्करों (Front Line Workers) को एक करोड़ रुपये की सम्मान राशि दी है। अब ये समय है कि सभी डॉक्टर, सभी स्वास्थ्यकर्मियों को ये जताने का और बताने का कि हम उनके कितने शुक्रगुजार हैं। हर साल देश ऐसी कुछ चुनिंदा हस्तियों को भारत रत्न (Bharat Ratna) और पद्म अवार्ड से सम्मानित करता है जिन्होंने अपने क्षेत्र में अच्छा काम किया है।

केजरीवाल ने कहा कि पद्म अवार्ड के तहत मिलने वाले तीन अवार्ड के लिए राज्य सरकार जो नाम केंद्र सरकार को भेजेगी उसमें सिर्फ डॉक्टरों और स्वास्थ्यकर्मियों का नाम होगा। यह नाम जनता बताएगी क्योंकि उसे ज्यादा अच्छे से पता है कि किस डॉक्टर ने कितना अच्छा काम किया है?

इसके लिए केजरीवाल ने एक ईमेल आईडी भी बताई जिसमें कोई भी व्यक्ति डॉक्टर या स्वास्थ्यकर्मी का नाम बता सकता है जिसे वह पद्म अवार्ड दिलाना चाहता है। ईमेल भेजने वाले को डॉक्टर या स्वास्थ्यकर्मी के नाम के साथ ही वो वजह भी बतानी होगी डिटेल में जिसके कारण वह चाहते हैं कि उसे पद्म अवार्ड मिले।

एप्लीकेशन भेजने के लिए जरूरी बातें-

पढ़ें :- Press Conference LIVE - अरविंद केजरीवाल बोले-पराली को गलाने में Bio-Decomposer प्रभावी, इसे पड़ोसी राज्य ज़रूर अपनाएं

ये है E mail ID- padmaawards.delhi@gmail.com

किस तारीख तक भेज सकते हैं नाम- 15 अगस्त तक मनचाहे डॉक्टर या स्वास्थ्यकर्मी का नाम और उसके काम का विस्तार से वर्णन कर भेजें।

सर्च एंड स्क्रीनिंग कमेटी के अध्यक्ष डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया (Deputy CM Manish Sisodia) होंगे। यह कमेटी 15 अगस्त तक भेजे गए जनता सुझावों का स्क्रीन और जांच करेगी। इसके बाद 15 सितंबर तक चुने गए नाम को केंद्र सरकार को भेजेगी।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...