1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. विपक्ष दुनिया में भारत को बदनाम करने की कर रहा है कोशिश : अनुराग ठाकुर

विपक्ष दुनिया में भारत को बदनाम करने की कर रहा है कोशिश : अनुराग ठाकुर

Delhi News केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर (Union Minister Anurag Thakur) बुधवार को कहा कि कांग्रेस (Congress) और टीएमसी (TMC ) सांसदों ने आज संसद को चलने नहीं देने की कोशिश की है। उन्होंने कहा कि विपक्षी दल अपना विरोध दर्ज करा सकते हैं लेकिन उसकी भी एक सीमा होती है। उन्होंने स्पीकर, मंत्रियों और यहां तक कि मीडिया गैलरी पर भी कागज फेंके गए और तख्तियां दिखाईं। अनुराग ठाकुर ने कहा कि विपक्ष चर्चाओं से क्यों भाग रहा है?

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। Delhi News केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर (Union Minister Anurag Thakur) बुधवार को कहा कि कांग्रेस (Congress) और टीएमसी (TMC ) सांसदों ने आज संसद को चलने नहीं देने की कोशिश की है। उन्होंने कहा कि विपक्षी दल अपना विरोध दर्ज करा सकते हैं लेकिन उसकी भी एक सीमा होती है। उन्होंने स्पीकर, मंत्रियों और यहां तक कि मीडिया गैलरी पर भी कागज फेंके गए और तख्तियां दिखाईं। अनुराग ठाकुर ने कहा कि विपक्ष चर्चाओं से क्यों भाग रहा है?

पढ़ें :- पंजाब का CM बनते ही चरणजीत सिंह चन्नी का बड़ा ऐलान-किसान के बिजली-पानी बिल माफ, कटे कनेक्शन होंगे बहाल
Jai Ho India App Panchang

विपक्ष (Opposition) इस तरह के आपत्तिजनक कृत्यों में क्यों शामिल है? क्या विपक्ष के पास चर्चा के लिए पर्याप्त मुद्दे नहीं हैं? क्या विपक्ष दुनिया भर में भारत को बदनाम करने की कोशिश कर रहा है? हम इस तरह के कृत्यों की कड़ी निंदा करते हैं।

संसद (Parliament) के दोनों सदनों में पेगासस जासूसी कांड (Pegasus spying case) को लेकर विपक्ष के तेवर तल्ख हैं, जिसके चलते अब तक संसद की कार्यवाही बाधित रही है। इस मामले में विपक्षी दल के नेता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह से जवाब मांग रहे हैं। विजय चौक पर विपक्ष की प्रेस कॉन्फ्रेंस में कांग्रेस (Congress) नेता व सांसद राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने कहा कि आखिर सरकार इस मुद्दे पर क्यों चर्चा नहीं करना चाह रही है? उन्होंने कहा कि ये आईटी मिनिस्ट्री का मामला नहीं है। उन्होंने कहा कि हम सदन बाधित नहीं कर रहे हैं, हम अपनी जिम्मेदारी निभा रहे हैं।

राहुल गांधी ने कहा कि आज हमें इसलिए आना पड़ा कि क्योंकि हमारी आवाज दबाई जा रही है। हमारा एक सवाल है कि क्या हिंदुस्तान की सरकार ने पेगासस खरीदा हां या ना। क्या सरकार ने पेगासस का इस्तेमाल किया हां, या न में जवाब दे। सरकार ने कहा है कि पेगासस पर चर्चा नहीं होगी। सरकार पेगासस का इस्तेमाल हथियार के तौर पर किया है। ये जो हथियार है ये लोकतंत्र के खिलाफ है। ये किसी की प्राइवेसी का मामला नहीं है।

तो वहीं, सपा सांसद रामगोपाल यादव ने कहा कि सरकार कह रही है कि हम चर्चा के लिए तैयार हैं, फिर क्यों वो चर्चा से भाग रही? मंत्री के बयान पर क्या चर्चा होती है? इस पर विस्तृत चर्चा की जरूरत है। शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा कि ये राष्ट्रीय सुरक्षा का मामला है। उन्होंने कहा कि ये पहली बार नहीं हुआ है। संजय राउत ने कहा कि हम इनके साथ काम कर चुके हैं। खैर ये राष्ट्रीय सुरक्षा का मामला है, इसलिए इस पर चर्चा होनी चाहिए।

पढ़ें :- वैक्सीनेशन का ग्राफ शेयर कर राहुल गांधी ने केंद्र सरकार को घेरा, कहा-इवेंट खत्म

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...