आप सरकार आपके दरवाजे पर देगी ये 40 सेवाएँ, नहीं काटने होंगे सरकारी दफ्तरों के चक्कर

Arvind Kejriwal, केजरीवाल
नई दिल्ली। दिल्ली सरकार ने फैसला लिया है कि पानी के कनेक्शन से शादी के सर्टिफिकेट जैसी 40 ऐसी सरकारी सेवाएं होंगी जो लोगों को घर के दरवाजे पर मुहैया करवाई जाएगी। इस बात की जानकारी गुरुवार को दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने दी। सिसोदिया ने बताया कि इससे जनता का समय बचेगा और उन्हे सरकारी कार्यालयों का बार-बार का चक्कर नहीं काटना पड़ेगा। उन्होंने इस निर्णय को 'सरकार को दरवाजे पर लाने' तथा 'शासन का होम डिलिवरी' करार…

नई दिल्ली। दिल्ली सरकार ने फैसला लिया है कि पानी के कनेक्शन से शादी के सर्टिफिकेट जैसी 40 ऐसी सरकारी सेवाएं होंगी जो लोगों को घर के दरवाजे पर मुहैया करवाई जाएगी। इस बात की जानकारी गुरुवार को दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने दी। सिसोदिया ने बताया कि इससे जनता का समय बचेगा और उन्हे सरकारी कार्यालयों का बार-बार का चक्कर नहीं काटना पड़ेगा। उन्होंने इस निर्णय को ‘सरकार को दरवाजे पर लाने’ तथा ‘शासन का होम डिलिवरी’ करार दिया। उन्होने यह भी बताया कि आने वाली 3-4 महीने में होम डिलिवरी की यह सेवा शुरू हो जाएगी।

सिसोदिया ने कहा कि नागरिकों को यह सेवाएं सामान्य कार्यालय अवधि के अलावा भी मिलेगी। सिसोदिया ने कहा कि इसके लिए लोगों से मामूली शुल्क लिया जाएगा और इन सेवाओं के लिए किसी निजी कंपनी की सेवाएं ली जाएंगी। नई परियोजना के तहत, अगर कोई व्यक्ति सरकार से कोई सर्टिफिकेट चाहता है तो उसे कॉल सेंटर पर टेलीफोन करना होगा। उसके बाद एक ‘मोबाइल सहायक’ आवेदक के घर या कार्यालय जाकर जरूरी दस्तावेज इकट्ठा करेगा, फोटो और बायोमीट्रिक विवरण दर्ज करेगा और उसके बाद आवेदन की प्रक्रिया पूरी करेगा।

{ यह भी पढ़ें:- कॉपी-किताब पर नहीं चढ़ा सकते हैं प्लास्टिक कवर, दिल्ली सरकार ने दिया आदेश }

ये हैं वो 40 सेवाएँ—
अन्य पिछड़ा वर्ग प्रमाण पत्र, अनुसूचित जाति प्रमाण पत्र, एसटी प्रमाण पत्र, निवास प्रमाण पत्र, आय प्रमाण पत्र,मोटर पंजीकरण सर्टिफिकेट, लाल डोरा प्रमाणपत्र, विकलांग व्यक्ति को स्थायी पहचान पत्र, आरओआर जारी करना, साल्वेन्सी (करदानक्षमता) सर्टिफिकेट, विवाह पंजीकरण, ड्राइविंग लाइसेंस, दिल्ली परिवार कल्याण योजना, वृद्धावस्था पेंशन योजना, विकलांगता पेंशन योजना, नया जल कनेक्शन….आदि

{ यह भी पढ़ें:- सिसोदिया ने उपराज्यपाल को बताया 'तानाशाह' }

Loading...