दिल्ली: हुनर हाट में अचानक पंहुचे PM मोदी, खाया लिट्टी-चोखा, कुल्हड़ में पी चाय

pm modi in hunar haat
दिल्ली: हुनर हाट में अचानक पंहुचे PM मोदी, खाया लिट्टी-चोखा, कुल्हड़ में पी चाय

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आज कैबिनेट की बैठक खत्म करके अचानक दिल्ली के इंडिया गेट पर लगे हुनर हाट में पंहुच गये और इस दौरान उन्होने लिट्टी चोखा भी खाया साथ ही कुल्हड़ में चाय भी पी। बता दें कि अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय की ओर से ‘कौशल को काम’ थीम पर आधारित हुनर हाट में देश भर से दस्तकार, शिल्पकार और खानसामे हिस्सा ले रहे हैं। इसमें 50 प्रतिशत से अधिक महिला दस्तकार शामिल हैं। पीएम मोदी के पंहुचने से वहां मौजूद कारीगर और आम लोगों का चेहरा खिल उठा।

Delhi Pm Modi Arrives Suddenly At Hunar Haat Ate Litti Chokha Drinks Tea In Kulhar :

बता दें कि हुनर हाट का उद्घाटन 14 फरवरी को केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल, मुख्तार अब्बास नकवी और हरदीप पुरी ने किया था। पीएम मोदी बुधवार को जब हुनर हाट पंहुचे तो उन्हे वहां देखकर सबको अचम्भा हुआ। इस दौरान पीएम मोदी एक-एक कर कुछ स्टॉल पर पहुंचे और वहां मौजूद कारीगरों व आम लोगों से बातें कीं। इस दौरान उन्होंने कुल्हड़ की चाय पी और बिहार के स्पेशल लिट्टी-चोखा का आनंद लिया। ‘लिट्टी-चोखा’ खाने के बाद प्रधानमंत्री मोदी ने 120 रुपये का भुगतान किया जबकि दो चाय के लिए 40 रूपये भी दिये।

पीएम मोदी के दौरे को देखते हुए प्रशासन ने वहां कड़ी सुरक्षा व्यवस्था का प्रबन्ध कर लिया था। हालांकि जिस वक्त मोदी आम लोगों से मुलाकात कर रहे थे, उन्हे बातचीत करने से रोका नही गया। इस दौरान मोदी के साथ केंद्रीय मंत्री नकवी भी मौजूद थे। पीएम ने दुकानदारों और कलाकारों से भी घूमकर बात की।

आपको बता दें कि पिछले तीन सालों में हुनर हाट के माध्यम से लगभग 3 लाख दस्तकारों, शिल्पकारों व खानसामों को रोजगार उपलब्ध करवाए गए हैं। यहां 250 से अधिक स्टॉल लगाए गए हैं। बता दें कि दिल्ली के अलावा हुनर हाट का आयोजन मुंबई, प्रयागराज, लखनऊ, जयपुर, अहमदाबाद, हैदराबाद, पुदूचेरी, इंदौर में हो चुका है। अगले हुनर हाट का आयोजन 29 फरवरी से 8 मार्च के बीच रांची में, 13 से 22 मार्च के बीच चंडीगढ़ में किया जाएगा।

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आज कैबिनेट की बैठक खत्म करके अचानक दिल्ली के इंडिया गेट पर लगे हुनर हाट में पंहुच गये और इस दौरान उन्होने लिट्टी चोखा भी खाया साथ ही कुल्हड़ में चाय भी पी। बता दें कि अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय की ओर से 'कौशल को काम' थीम पर आधारित हुनर हाट में देश भर से दस्तकार, शिल्पकार और खानसामे हिस्सा ले रहे हैं। इसमें 50 प्रतिशत से अधिक महिला दस्तकार शामिल हैं। पीएम मोदी के पंहुचने से वहां मौजूद कारीगर और आम लोगों का चेहरा खिल उठा। बता दें कि हुनर हाट का उद्घाटन 14 फरवरी को केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल, मुख्तार अब्बास नकवी और हरदीप पुरी ने किया था। पीएम मोदी बुधवार को जब हुनर हाट पंहुचे तो उन्हे वहां देखकर सबको अचम्भा हुआ। इस दौरान पीएम मोदी एक-एक कर कुछ स्टॉल पर पहुंचे और वहां मौजूद कारीगरों व आम लोगों से बातें कीं। इस दौरान उन्होंने कुल्हड़ की चाय पी और बिहार के स्पेशल लिट्टी-चोखा का आनंद लिया। 'लिट्टी-चोखा' खाने के बाद प्रधानमंत्री मोदी ने 120 रुपये का भुगतान किया जबकि दो चाय के लिए 40 रूपये भी दिये। पीएम मोदी के दौरे को देखते हुए प्रशासन ने वहां कड़ी सुरक्षा व्यवस्था का प्रबन्ध कर लिया था। हालांकि जिस वक्त मोदी आम लोगों से मुलाकात कर रहे थे, उन्हे बातचीत करने से रोका नही गया। इस दौरान मोदी के साथ केंद्रीय मंत्री नकवी भी मौजूद थे। पीएम ने दुकानदारों और कलाकारों से भी घूमकर बात की। आपको बता दें कि पिछले तीन सालों में हुनर हाट के माध्यम से लगभग 3 लाख दस्तकारों, शिल्पकारों व खानसामों को रोजगार उपलब्ध करवाए गए हैं। यहां 250 से अधिक स्टॉल लगाए गए हैं। बता दें कि दिल्ली के अलावा हुनर हाट का आयोजन मुंबई, प्रयागराज, लखनऊ, जयपुर, अहमदाबाद, हैदराबाद, पुदूचेरी, इंदौर में हो चुका है। अगले हुनर हाट का आयोजन 29 फरवरी से 8 मार्च के बीच रांची में, 13 से 22 मार्च के बीच चंडीगढ़ में किया जाएगा।