दिल्ली: हैदरपुर में हैंड ग्रेनेड मिलने से मचा हड़कंप, NSG ने लिया कब्जे में

Hand grenade
दिल्ली: हैदरपुर में हैंड ग्रेनेड मिलने से मचा हड़कंप, NSG ने लिया कब्जे में

नई दिल्ली। सीएए को लेकर हुई हिंसा के बाद राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली सहमी हुई है। मंगलवार को दिल्ली के हैदरपुर गांव में एक हैंड ग्रेनेड मिलने से फिर हड़कंप मच गया है। ग्रामीणों से सूचना पाकर पहुंची एनएसजी की टीम ने इस ग्रेनेड को कब्जे में ले लिया है। इसके बाद पुलिस ने इसे एनएसजी टीम को सौंप दिया। फिलहाल इस बात की जांच की जा रही है कि यह ग्रेनेड कहां से आया। कहीं इसके पीछे कोई गहरी साजिश तो नहीं।

Delhi Struggle Over Getting Hand Grenade In Hyderpur Nsg Captured :

बता दें कि अब तक हैंड ग्रेनेड आतंकी घटनाओं में इस्तेमाल होता रहा है। सुरक्षाबलों और बेकसूर लोगों को निशाना बनाने के लिए आतंकी हैंड ग्रेनेड का इस्तेमाल करते रहे हैं। हैंड ग्रेनेड फटने से जानमाल को काफी नुकसान होता है।

उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हिंसा के बाद से पुलिस सतर्क है। हिंसाग्रस्त इलाकों में भारी तादात में पुलिस बल तैनात है। इसके अलावा अफवाह फैलाने वालों पर कड़ी नजर रखी जा रही है। रविवार शाम दिल्ली के विभिन्न इलाकों में हिंसा की अफवाह ने दिल्ली वासियों के मन में दहशत पैदा कर दी थी। अफवाह फैलाने वालों के खिलाफ पुलिस ने सख्त कार्रवाई करनी शुरू कर दी है।

अफवाहों को लेकर पुलिस आयुक्त एसएन श्रीवास्तव ने कहा कि कुछ देश विरोधी लोग अफवाहों के जरिये दिल्ली में अशांति फैलाना चाहते हैं। ऐसे लोगों को किसी सूरत में बख्शा नहीं जाएगा। उनके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी। पुलिस आयुक्त ने लोगों से अपील की कि अफवाह फैलाने वालों के बारे में अगर किसी को कोई जानकारी मिलती है तो वे तुरंत पुलिस कंट्रोल रूम 112 या 100 नंबर पर जानकारी दे सकते हैं। उन्होंने दिल्लीवासियों से किसी भी तरह के अफवाह से बचने की सलाह दी। दिल्ली पुलिस सोशल मीडिया पर नजर बनाए हुए है।

नई दिल्ली। सीएए को लेकर हुई हिंसा के बाद राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली सहमी हुई है। मंगलवार को दिल्ली के हैदरपुर गांव में एक हैंड ग्रेनेड मिलने से फिर हड़कंप मच गया है। ग्रामीणों से सूचना पाकर पहुंची एनएसजी की टीम ने इस ग्रेनेड को कब्जे में ले लिया है। इसके बाद पुलिस ने इसे एनएसजी टीम को सौंप दिया। फिलहाल इस बात की जांच की जा रही है कि यह ग्रेनेड कहां से आया। कहीं इसके पीछे कोई गहरी साजिश तो नहीं। बता दें कि अब तक हैंड ग्रेनेड आतंकी घटनाओं में इस्तेमाल होता रहा है। सुरक्षाबलों और बेकसूर लोगों को निशाना बनाने के लिए आतंकी हैंड ग्रेनेड का इस्तेमाल करते रहे हैं। हैंड ग्रेनेड फटने से जानमाल को काफी नुकसान होता है। उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हिंसा के बाद से पुलिस सतर्क है। हिंसाग्रस्त इलाकों में भारी तादात में पुलिस बल तैनात है। इसके अलावा अफवाह फैलाने वालों पर कड़ी नजर रखी जा रही है। रविवार शाम दिल्ली के विभिन्न इलाकों में हिंसा की अफवाह ने दिल्ली वासियों के मन में दहशत पैदा कर दी थी। अफवाह फैलाने वालों के खिलाफ पुलिस ने सख्त कार्रवाई करनी शुरू कर दी है। अफवाहों को लेकर पुलिस आयुक्त एसएन श्रीवास्तव ने कहा कि कुछ देश विरोधी लोग अफवाहों के जरिये दिल्ली में अशांति फैलाना चाहते हैं। ऐसे लोगों को किसी सूरत में बख्शा नहीं जाएगा। उनके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी। पुलिस आयुक्त ने लोगों से अपील की कि अफवाह फैलाने वालों के बारे में अगर किसी को कोई जानकारी मिलती है तो वे तुरंत पुलिस कंट्रोल रूम 112 या 100 नंबर पर जानकारी दे सकते हैं। उन्होंने दिल्लीवासियों से किसी भी तरह के अफवाह से बचने की सलाह दी। दिल्ली पुलिस सोशल मीडिया पर नजर बनाए हुए है।