दिल्ली हिंसा: मॉडल बनना चाहता था शाहरुख, टिक टॉक पर बनता था वीडियो, पुलिस को बताई यह वजह

delhi
दिल्ली हिंसा: मॉडल बनना चाहता था शाहरुख, टिक टॉक पर बनता था वीडियो, पुलिस पर तानी थी पिस्टल

नई दिल्ली। दिल्ली हिंसा में पुलिस पर फायरिंग करने वाले शाहरुख को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी ने 24 फरवरी को जाफराबाद इलाके में ताबड़तोड़ फायरिंग करके दहशत फैलाई थी। इस मामले में क्राइम ब्रांच के एडिशनल सीपी अजीत सिंगला ने कहा कि शाहरुख को कोई में पेश किया जायेगा।

Delhi Violence Shahrukh Wanted To Become A Model Video Was Made On Tick Talk Pistol Was Focused On Police :

इसका पीसी भी किया जायेगा। उन्होंने बताया कि शाहरुख द्वारा हिंसा के दौरान यूज की गई पिस्टल की भी रिकवरी की कोशिश जारी है। क्राइम ब्रांच के एडिशनल सीपी अजीत सिंगला ने बताया कि आरोपी शाहरुख ने जिस पिस्टल से जाफराबाद में फायरिंग की थी, दरअसल उसे मुंगेर से खरीदा गया है।

आरोपी अपने घर में जुराब की फैक्ट्री संचालित करता है। उसका एक साथी उसके घर में ही काम करता था, शाहरुख ने उसी से पिस्टल ली थी। उन्होंने कहा कि शाहरुख का कहना है कि जब प्रदर्शन चल रहे थे और पत्थरबाजी हो रही थी तभी वह तैश में आ गया और खुद को गोली चलाने से रोक नहीं पाया।

पूछताछ में आरोपी ने बताया कि वह वारदात के बाद दिल्ली में ही कुछ दिनों तक रूका हुआ था। इसके बाद से वह पंजाब चला गया, जहां से बरेली फिर शामली पहुंच गया। पुलिस के मुताबिक शाहरुख का कोई आपराधिक इतिहास नहीं है लेकिन उसके पिता का आपराधिक इतिहास रहा है।

शाहरुख का दावा है कि उसने तीन राउंड फायरिंग की थी। शाहरुख को शामली के बस स्टैंड से गिरफ्तार किया गया है। शाहरुख ने पुलिस से बताया कि वह गुस्से में था इसलिए खुद को फायरिंग करने से रोक नहीं था। वह मॉडलिंग का शौक रखता है और वह टिकटॉक का वीडियो बनाता है।

नई दिल्ली। दिल्ली हिंसा में पुलिस पर फायरिंग करने वाले शाहरुख को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी ने 24 फरवरी को जाफराबाद इलाके में ताबड़तोड़ फायरिंग करके दहशत फैलाई थी। इस मामले में क्राइम ब्रांच के एडिशनल सीपी अजीत सिंगला ने कहा कि शाहरुख को कोई में पेश किया जायेगा। इसका पीसी भी किया जायेगा। उन्होंने बताया कि शाहरुख द्वारा हिंसा के दौरान यूज की गई पिस्टल की भी रिकवरी की कोशिश जारी है। क्राइम ब्रांच के एडिशनल सीपी अजीत सिंगला ने बताया कि आरोपी शाहरुख ने जिस पिस्टल से जाफराबाद में फायरिंग की थी, दरअसल उसे मुंगेर से खरीदा गया है। आरोपी अपने घर में जुराब की फैक्ट्री संचालित करता है। उसका एक साथी उसके घर में ही काम करता था, शाहरुख ने उसी से पिस्टल ली थी। उन्होंने कहा कि शाहरुख का कहना है कि जब प्रदर्शन चल रहे थे और पत्थरबाजी हो रही थी तभी वह तैश में आ गया और खुद को गोली चलाने से रोक नहीं पाया। पूछताछ में आरोपी ने बताया कि वह वारदात के बाद दिल्ली में ही कुछ दिनों तक रूका हुआ था। इसके बाद से वह पंजाब चला गया, जहां से बरेली फिर शामली पहुंच गया। पुलिस के मुताबिक शाहरुख का कोई आपराधिक इतिहास नहीं है लेकिन उसके पिता का आपराधिक इतिहास रहा है। शाहरुख का दावा है कि उसने तीन राउंड फायरिंग की थी। शाहरुख को शामली के बस स्टैंड से गिरफ्तार किया गया है। शाहरुख ने पुलिस से बताया कि वह गुस्से में था इसलिए खुद को फायरिंग करने से रोक नहीं था। वह मॉडलिंग का शौक रखता है और वह टिकटॉक का वीडियो बनाता है।