HBE Ads
  1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. दिल्ली की केजरीवाल सरकार को झटका, केंद्र ने राशन की डोर स्टेप डिलीवरी योजना पर लगाई रोक

दिल्ली की केजरीवाल सरकार को झटका, केंद्र ने राशन की डोर स्टेप डिलीवरी योजना पर लगाई रोक

केंद्र और दिल्ली सरकार के बीच खींचतान जारी है। ये खींचतान दिल्ली में शासन की शक्तियों को लेकर चल रही है। इस बीच मोदी सरकार ने दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार को बड़ा झटका दिया है। केजरीवाल सरकार की "मुख्यमंत्री घर-घर राशन योजना" 25 मार्च से शुरू होने वाली थी। इससे पहले केंद्र ने इस योजना पर रोक लगा दी है।

By शिव मौर्या 
Updated Date

नई दिल्ली। केंद्र और दिल्ली सरकार के बीच खींचतान जारी है। ये खींचतान दिल्ली में शासन की शक्तियों को लेकर चल रही है। इस बीच मोदी सरकार ने दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार को बड़ा झटका दिया है। केजरीवाल सरकार की “मुख्यमंत्री घर-घर राशन योजना” 25 मार्च से शुरू होने वाली थी। इससे पहले केंद्र ने इस योजना पर रोक लगा दी है।

पढ़ें :- SC ने माना कि NEET-UG का पेपर हुआ था लीक, मोदी सरकार 'उल्टा चोर, कोतवाल को डांटे' वाला रच रही है ढ़ोंग : मल्ल‍िकार्जुन खड़गे

केंद्र सरकार ने दिल्ली सरकार के खाद्य आपूर्ति सचिव को लिखी चिट्ठी में कहा है कि इस योजना को शुरू न करें, जबकि केजरीवाल सरकार इस योजना के लिए टेंडर भी जारी कर चुकी थी और 25 मार्च से इसे लॉन्च किया जाना था। केंद्र के इस कदम के बाद ‘आप’ ने पूछा है कि मोदी सरकार राशन माफिया को खत्म करने के खिलाफ क्यों है?

केंद्र ने कहा है कि वह राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत राज्यों को राशन प्रदान करती है, इसलिए इसमें कोई बदलाव नहीं किया जाना चाहिए। बता दें कि, केजरीवाल सरकार इस योजना के तहत घर-घर राशन योजना के तहत दिल्ली की सभी 70 विधानसभाओं में लगभग 17 लाख लोगों के घरों तक राशन पहुंचाए जाने की योजना थी। इसमें जो लोग दुकानों से राशन लेना चाहते हैं तो वे उसे जारी रख सकते हैं। इसके तहत दिल्ली सरकार की ओर से गेहूं न देकर लोगों को आटा दिया जाना था।

 

पढ़ें :- कपिल सिब्बल ने सपा अध्यक्ष का लिया इंटरव्यू...अखिलेश यादव ने PDA से लेकर लोकसभा चुनाव परिणाम को लेकर दिए ये जवाब
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...