गेहूं की बोरियों में मिले 96,000 के पुराने नोट, किसान ने DM से लगाई गुहार

इंदौर। नोटबंदी की समस्या खत्म होने के बाद अब भी कुछ लोग पुराने नोटों को बदलवाने को लेकर परेशान हैं। मामला इंदौर ज़िले का है। यहां के रहने वाले किसान जब 96,000 नोटों को बदलवाने भोपाल के भारतीय रिजर्व बैंक मे पहुंचे तो उन्हे अंदर ही नहीं जाने दिया गया और गार्ड ने ये कहकर लौटा दिया कि पुराने नोट अब नहीं लिए जा रहे हैं।




नोट न बदलने की बात सुनकर किसान देवकरण थक-हार कर इंदौर के डीएम की जनसुनवाई में पहुंचे। वहां उसने डीएम को बताया कि उसके पिता ने गेहूं की बोरी में ये नोट छिपाकर रखे हुए थे। देवकरण ने बताया कि उनके पिता का देहांत हो चुका है, जब उन्हे पैसों की जरूरत हुई तो उसने घर में रखे गेहूं बेचने के लिये बोरियां निकाली, जिनमें उसे ये पैसे मिले।




फ़िलहाल डीएम पी नरहरि ने किसान की समस्या सुनकर उसकी समस्या का समाधान करने के लिए आरबीआई को पत्र लिखने की बात कही है। साथ ही देवकरण की बातों की सत्यता की जांच का आदेश भी दिया है।