नोटबंदी और जीएसटी अर्थव्यवस्था पर प्रहार : राहुल गांधी

नोटबंदी और जीएसटी अर्थव्यवस्था पर प्रहार, देश का मन पढ़ने में असफल रहे पीएम मोदी: राहुल गांधी

नई दिल्ली। कांग्रेस के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने सोमवार को पार्टी के राष्ट्रीय कार्यालय में कांग्रेस के रणनीतिकारों के साथ बैठक कर नोटबंदी (Demonetization) और जीएसटी (GST) पर मौजूदा सरकार को घेरने की रूपरेखा तैयार की है। राहुल गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस ने योजना बनाई है कि 8 नवंबर को केन्द्र सरकार की ओर से नोटबंदी की वर्षगांठ पर होने वाले आयोजन के विरोध में तमाम विपक्षी दलों के साथ नोटबंदी के फैसले का विरोध करेंगे। इस कार्यक्रम को ‘भुगत रहा है देश’ के नाम से देश भर में चलाया जाएगा।

बैठक के दौरान राहुल गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार ने देश की अर्थव्यवस्था पर नोटबंदी और जीएसटी के रूप में दो प्रहार किए हैं। जिसका खामियाजा देश का हर आम नागरिक झेल रहा है। जिस तरह से नोटबंदी से परेशान लोगों पर जीएसटी थोपा गया वह दर्शाता है कि प्रधानमंत्री मोदी देश का मन पढ़ने में नाकाम रहे।

{ यह भी पढ़ें:- हिमाचल और गुजरात चुनाव परिणाम के बाद कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष बनेंगे राहुल गांधी }

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि जीएसटी एक अच्छा विचार था, लेकिन जिस तरह से उसे अमल में लाया गया वह तरीका गलत था। जिससे सभी को परेशानी हो रही है।

संवाददाताओं से बातचीत करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि 8 नवंबर को लागू हुई नोटबंदी से लोगों को कितनी परेशानी हुई, यह देश जानता है। इसके बावजूद नोटबंदी का जश्न कैसे मनाया जा सकता है। उन्होंने कहा कि सरकार के जिस फैसले से जनता को परेशानी हुई उसके लिए जश्न मनाने का उनकी समझ में नहीं आता।

{ यह भी पढ़ें:- राहुल गांधी 11 दिसंबर को बनाए जा सकते हैं कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष }

कांग्रेस के राष्ट्रीय कार्यालय में हुई बैठक में भुगत रहा है भारत कार्यक्रम के लिए रणनीति तैयार करने के लिए राहुल गांधी के साथ देश के पूर्व प्रधानमंत्री डॉ0 मनमोहन सिंह, पूर्व वित्तमंत्री पी चिदंबरम, पूर्व केन्द्रीय मंत्री जयराम नरेश, राज्यसभा के नेता विरोधी दल सांसद गुलाम नवी आजाद समेंत पार्टी की राज्य कार्यकारिणियों के सदस्यों समेंत अन्य पदाधिकारी भी मौजूद रहे। इन सभी से क्षेत्री स्तर पर लोगों को नोटबंदी और जीएसटी से हुई परेशानियों को लेकर विस्तार से चर्चा की गई।

Loading...