क्वारंटीन सेंटर में जमातियों की बदसलूकी, दरवाजे पर किया शौच, दो के खिलाफ मामला दर्ज

6606Deprivation_of_deposits_at_quarantine_center,_defecation_at_door,_FIR_lodged_against_two

नई दिल्ली: निजामुद्दीन मरकज से कोरोना के शक में नरेला क्वारंटीन सेंटर में शिफ्ट किए गए जमातियों की बदसलूकी के मामले में मुकदमा दर्ज किया गया है। आरोप है कि क्वारंटीन सेंटर में दो जमातियों ने अपने कमरे के बाहर ही शौच कर दिया। हाउस कीपिंग स्टाफ जब वहां पहुंचा तो आरोपी उनसे बदसलूकी करने लगे। स्टाफ ने अपने अधिकारियों को मामले की सूचना दी। बाद में इसकी खबर नरेला इंडस्ट्रियल थाना पुलिस को दी गई।

Deprivation Of Deposits At Quarantine Center Defecation At Door Fir Lodged Against Two :

पुलिस ने बाराबंकी निवासी दो जमाती के खिलाफ सरकारी आदेश का उल्लंघन समेत दूसरी धाराओं में मामला दर्ज किया है। यह दोनों जमाती, दिल्ली मरकज में शामिल थे और इन्हें अब नरेला में क्वारंटाइन में रखा गया है। इनके खिलाफ की गई एफआईआर में लिखा है कि नियमित सफाई कर्मचारियों ने आज रिपोर्ट की है कि कुछ यात्रियों ने 31 मार्च को कमरे के सामने ही शौच कर दिया। दरअसल, बताया जा रहा है जमातियों ने स्टाफ को तंग करने के लिए ऐसा किया। इस घटना के बाद स्टाफ ने अपने वरिष्ठ अधिकारियों को मामले की सूचना दी।

बता दें कि, जमात से जुड़े लोगों की अभद्रता का यह कोई पहला और नया मामला नहीं है। दिल्ली के निजामुद्दीन स्थित मरकज से निकले तबलीगी जमात के लोग देश के कई हिस्सों में कोरोना संक्रमण के प्रसार के लिए जहां जिम्मेदार माने जा रहे हैं, वहीं मेडिकल स्टाफ और पुलिस के साथ इन लोगों की बदसलूकी के कई मामले भी आ रहे हैं। इससे पहले भी गाजियाबाद के एमजीएम अस्पताल में क्वारंटाइन में रखे गए 13 जमातियों पर महिला मेडिकल स्टाफ के साथ अश्लील हरकतें करने के आरोप लगे हैं।

अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक ने पुलिस को दी तहरीर में आरोप लगाया है कि जमाती वार्ड के अंदर अश्लील गाने सुनते हैं। बिना पैंट के घूमते हैं और महिला कर्मचारियों से बीड़ी-सिगरेट तक मांगते हैं। नर्स व अन्य महिला मेडिकल स्टाफ को देखकर अश्लील फब्तियां भी कसते हैं। उन्होंने अपनी शिकायत में बताया है कि ऐसे हालात में इनका इलाज करना संभव नहीं है।

नई दिल्ली: निजामुद्दीन मरकज से कोरोना के शक में नरेला क्वारंटीन सेंटर में शिफ्ट किए गए जमातियों की बदसलूकी के मामले में मुकदमा दर्ज किया गया है। आरोप है कि क्वारंटीन सेंटर में दो जमातियों ने अपने कमरे के बाहर ही शौच कर दिया। हाउस कीपिंग स्टाफ जब वहां पहुंचा तो आरोपी उनसे बदसलूकी करने लगे। स्टाफ ने अपने अधिकारियों को मामले की सूचना दी। बाद में इसकी खबर नरेला इंडस्ट्रियल थाना पुलिस को दी गई।

पुलिस ने बाराबंकी निवासी दो जमाती के खिलाफ सरकारी आदेश का उल्लंघन समेत दूसरी धाराओं में मामला दर्ज किया है। यह दोनों जमाती, दिल्ली मरकज में शामिल थे और इन्हें अब नरेला में क्वारंटाइन में रखा गया है। इनके खिलाफ की गई एफआईआर में लिखा है कि नियमित सफाई कर्मचारियों ने आज रिपोर्ट की है कि कुछ यात्रियों ने 31 मार्च को कमरे के सामने ही शौच कर दिया। दरअसल, बताया जा रहा है जमातियों ने स्टाफ को तंग करने के लिए ऐसा किया। इस घटना के बाद स्टाफ ने अपने वरिष्ठ अधिकारियों को मामले की सूचना दी।

बता दें कि, जमात से जुड़े लोगों की अभद्रता का यह कोई पहला और नया मामला नहीं है। दिल्ली के निजामुद्दीन स्थित मरकज से निकले तबलीगी जमात के लोग देश के कई हिस्सों में कोरोना संक्रमण के प्रसार के लिए जहां जिम्मेदार माने जा रहे हैं, वहीं मेडिकल स्टाफ और पुलिस के साथ इन लोगों की बदसलूकी के कई मामले भी आ रहे हैं। इससे पहले भी गाजियाबाद के एमजीएम अस्पताल में क्वारंटाइन में रखे गए 13 जमातियों पर महिला मेडिकल स्टाफ के साथ अश्लील हरकतें करने के आरोप लगे हैं।

अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक ने पुलिस को दी तहरीर में आरोप लगाया है कि जमाती वार्ड के अंदर अश्लील गाने सुनते हैं। बिना पैंट के घूमते हैं और महिला कर्मचारियों से बीड़ी-सिगरेट तक मांगते हैं। नर्स व अन्य महिला मेडिकल स्टाफ को देखकर अश्लील फब्तियां भी कसते हैं। उन्होंने अपनी शिकायत में बताया है कि ऐसे हालात में इनका इलाज करना संभव नहीं है।